शिकायत / सांसद डामोर का पहला दौरा विवादों में, प्रोटोकॉल का ध्यान नहीं रखने वाला सचिव निलंबित, सब इंजी. के निलंबन का प्रस्ताव भेजा



सांसद गुमान सिंह डामोर। सांसद गुमान सिंह डामोर।
X
सांसद गुमान सिंह डामोर।सांसद गुमान सिंह डामोर।

  • झरखेड़ी में किया था नल-जल योजना का लोकार्पण, कांग्रेस जिलाध्यक्ष की शिकायत पर कार्रवाई 

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 12:06 PM IST

रतलाम. भाजपा सांसद गुमानसिंह डामोर का जिले का पहला दौरा ही विवादों में है। नल-जल योजना के लोकार्पण के शिलालेख पर नाम लिखने में प्रोटोकाॅल का ध्यान नहीं रखने पर झरखेड़ी के पंचायत सचिव को निलंबित किया जा चुका है। 

 

सोमवार को झरखेड़ी में सांसद गुमानसिंह डामोर ने 74.84 लाख की नल-जल योजना का शुभारंभ किया था। कार्यक्रम उस समय विवादों में आ गया जब कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश भरावा ने कलेक्टर को शिकायत कर दी। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि प्रभारी मंत्री यादव का नाम भाजपा की मानसिकता वाले अधिकारियों ने जान-बूझकर शिलालेख में नहीं दिया। कलेक्टर ने रतलाम ग्रामीण एसडीएम प्रवीण फुलपगारे से मांमले की जांच करवाई। 

 

प्रभारी कलेक्टर व जिला पंचायत सीईओ सोमेश मिश्रा ने बताया जांच में प्रोटोकॉल का ध्यान नहीं रखना सही पाए जाने पर पंचायत सचिव विंजाराम मईड़ा को निलंबित कर दिया है। पीएचई के सब इंजीनियर मनोज पंडित को निलंबित करने के लिए संभागायुक्त अजीत कुमार को प्रस्ताव भेज चुके हैं। जनपद पंचायत सीईओ डीएस सिसोदिया को नोटिस देकर तीन दिन में जवाब मांगा है। 

 

ये शिलालेख है विवाद की जड़ : शिलालेख पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष ने पूर्व विधायक डामर और भाजपा जिलाध्यक्ष लुनेरा के नाम को लेकर आपत्ति ली है। उन्होंने प्रोटोकॉल के हिसाब से प्रभारी मंत्री सचिन यादव का नाम नहीं लिखने की शिकायत की जिस पर कार्रवाई हुई। 

 

प्रशासन से अनुमति नहीं ली : प्रभारी कलेक्टर ने बताया आयोजन की प्रशासन से अनुमति नहीं ली गई। 

 

पीएचई के ईई ने नियमानुसार काम का पत्र लिखा, बच गए : पीएचई के ईई केपी वर्मा ने सब इंजीनियर को पत्र लिखा था कि आयोजन नियमानुसार किया जाए इसलिए उन पर कार्रवाई नहीं की। 


 

पंचायत स्वतंत्र ईकाई है वो कार्यक्रम कर सकती है, कोई नियम है तो पालन करना चाहिए।

गुमानसिंह डामोर, सांसद 

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना