• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Jaora News mp news 17 warehouses investigated half rented two traders responded by giving notice now allotment will be canceled

17 गोदामों की जांच, आधे किराये पर दिए, दो व्यापारियों को नोटिस देकर मांगा जवाब, अब आवंटन निरस्त होगा

Ratlam News - अरनियापिथा कृषि उपज मंडी स्थित व्यापारी के दो गोदाम से चावल जब्त होने के बाद प्रशासन ने सारे गोदामों की जांच...

Feb 15, 2020, 08:01 AM IST
Jaora News - mp news 17 warehouses investigated half rented two traders responded by giving notice now allotment will be canceled

अरनियापिथा कृषि उपज मंडी स्थित व्यापारी के दो गोदाम से चावल जब्त होने के बाद प्रशासन ने सारे गोदामों की जांच शुरू कर दी है। प्रशासन का कहना है जिसे गोदाम आवंटित हुआ केवल वही उसका उपयोग कर सकता है। किराये पर नहीं दे सकते। जबकि वास्तविकता में मंडी में ज्यादातर गोदाम किराये पर ही है। ये उन व्यापारियों ने किराये पर ले रखे हैं जिनके पास खुद का गोदाम तैयार नहीं होने से माल रखने की परेशानी है। प्रशासन के इस कदम के बाद व्यापारी संगठन ने आरोप लगाए कि कई व्यापारियों के पास भूखंड है लेकिन बार-बार निवेदन के बावजूद मंडी ने ले-आउट व एनओसी नहीं दी। इसलिए निर्माण नहीं कर पाए और अब किराये पर भी नहीं लेने देंगे तो माल कहां रखेंगे।

दरअसल मंडी में करीब 700 व्यापारी में से 381को दुकान सह गोदाम बनाने के लिए भूखंड आवंटित हो चुके है। इनमें से 180 ने ही निर्माण करवाया है। कुछ व्यापारी सीमित व्यापार करते है, इसलिए उन्होंने दूसरे बड़े व्यापारियोंं को गोदाम किराये पर दे रखे है। मंडी प्रशासन का कहना है ये आवंटन शर्तों का उल्लंघन है, इसलिए कार्रवाई की जाएगी। किराये पर गोदाम देना नियम विरुद्ध है। मंडी व्यापारी संगठन अध्यक्ष पवन पाटनी का कहना है कि यदि व्यापारी के पास गोदाम नहीं होंगे तो वह माल कहां रखेंगे । प्रांगण में प्लेटफॉर्म पर प्रशासन माल नहीं रखने देता। किराये से गोदाम लेने पर कार्रवाई की चेतावनी दी जा रही है और जिन्हें भूखंड आवंटित किए उनमें से 180 को छोड़कर बाकी को ना लेआउट दिया ना निर्माण की एनओसी दी। इसलिए व्यापारी निर्माण नहीं कर पा रहे है। 700 में से 381 को आवंटन हुआ और बाकी भी भूखंड लेने को तैयार है लेकिन मंडी प्रशासन आवंटन भी नहीं कर रहा। ऐसे में लापरवाही मंडी प्रशासन की है और परेशान व्यापारियों को किया जा रहा है। पूर्व व्यापारी प्रतिनिधि महेंद्र गोखरू का कहना है हमने कई बार मंडी में लिखित आवेदन दिए और बचे हुए भूखंड पर निर्माण की अनुमति मांगी लेकिन मंडी प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया। अब दोहरी नीति अपनाना गलत है। मंडी सचिव संजीव श्रीवास्तव का कहना है इंजीनियर को लेआउट व एनओसी देने के लिए निर्देशित कर दिया है। जल्द जरूरी प्रक्रिया पूरी कर बाकी भूखंड पर निर्माण की अनुमति देंगे लेकिन नियम से व्यापारी अपने गोदाम दूसरे को किराये पर नहीं दे सकते। इसलिए दो व्यापारियों को नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है।

दस्तावेज पेश करने के बाद चावल जब्त कर ट्रक छोड़ा, जांच जारी

चावल जब्ती मामले में बापूलाल जैन फर्म के व्यापारी विकास मेहता ने व्यापारी संगठन पदाधिकारियों के साथ मंडी कार्यालय पहुंचकर तथा एसडीएम ऑफिस में मंदसौर से चावल खरीदी संबंधी दस्तावेज पेश किए। एसडीएम ने चावल राशन का है अथवा नहीं इसकी जांच पूरी होने तक चावल जब्ती में रखने की बात कही है। यही कारण है कि सील किए गए दोनों गोदाम अभी नहीं खोले गए। जिस ट्रक काे जब्ती में लिया था उसमें से चावल के कट्‌टे खाली करके छोड़ दिया।

तीसरे दिन भी जांच जारी रही

11 फरवरी को एसडीएम राहुल धोटे ने राशन के चावल मंडी पहुंचने की आशंका में मंडी स्थित बापूलाल समीरमल जैन फर्म की दुकान नंबर 137 और किराये पर ले रखी दुकान 105 पर छापा मारकर 496 कट्टे चावल जब्त किए थे। मौके पर खड़े एक ट्रक में 35 कट्टे चावल थे। इसलिए गोदाम सील करने के साथ ही ट्रक जब्त कर लिया था। एसडीएम ने मंडी प्रशासन को सभी गोदामों की जांच करने के निर्देश दिए थे। चावल जैसे प्रोसेसिंग आइटम मंडी के गोदाम से खरीदे या बेचे नहीं जा सकते, इसलिए जिस गोदाम में ऐसी बिना अनुमति वाली वस्तु खरीदी-बेची जा रही उसको चिह्नित करें। जो व्यापारी गोदाम का खुद उपयोग नहीं कर दूसरे को किराये पर दे दिए उन्हें चिह्नित करें ताकि आवंटन निरस्त किया जा सके। इसके बाद से मंडी अधिकारियों ने जांच शुरू की। शुक्रवार को भी मंडी निरीक्षक पूरालाल मुजावदिया, सुरेश शर्मा, अजय उपाध्याय, उमेश शुक्ला, मुकेश देवड़ा ने पांच गोदाम जांचे। गुरुवार को 12 जांचे थे। 17 की जांच में आधे तो किराये पर दे रखे हैं। वहीं जिस व्यापारी के यहां से चावल जब्त हुए थे उसे तथा 105 नंबर दुकान किराये पर देने वाले मेसर्स प्रकाश ट्रेडिंग कंपनी को नोटिस दिया है। इनके द्वारा संतोषप्रद जवाब नहीं देने पर आवंटन निरस्त करने की चेतावनी दी गई है।

एसडीएम के निर्देश पर शुक्रवार को भी मंडी अधिकारियों ने गोदामों की जांच की।

X
Jaora News - mp news 17 warehouses investigated half rented two traders responded by giving notice now allotment will be canceled
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना