• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Ratlam News mp news 200 liter milk manipulation of daily sanchi plant was suspended sales promoter suspended in bribe case

सांची प्लांट में रोज की जा रही थी 200 लीटर दूध की हेराफेरी, रिश्वत मामले में सेल्स प्रमोटर निलंबित

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:56 AM IST

Ratlam News - आरोपी मैनेजर बीरम को रिश्वत लेते गिरफ्तार करने वाले लोकायुक्त डीएसपी शैलेंद्रसिंह ठाकुर ने बताया शिकायतकर्ता...

Ratlam News - mp news 200 liter milk manipulation of daily sanchi plant was suspended sales promoter suspended in bribe case
आरोपी मैनेजर बीरम को रिश्वत लेते गिरफ्तार करने वाले लोकायुक्त डीएसपी शैलेंद्रसिंह ठाकुर ने बताया शिकायतकर्ता ने मीडिया को हेराफेरी की जानकारी दी। कार्रवाई में हेराफेरी की बात सामने आने पर इसकी जांच भी की जाएगी।

मैनेजर बीरम पर कार्रवाई के लिए एमडी को लिखा

भास्कर संवाददाता | रतलाम

सागोद रोड स्थित सांची प्लांट में चल रही दूध की हेराफेरी के मामले में प्लांट के कर्मचारियों का कहना है रोज करीब ढाई सौ लीटर दूध (आठ हजार रुपए कीमत) की हेराफेरी होती थी। सांची दूध उज्जैन के सीईओ भुवनेश साहू ने बताया रिश्वत कांड में गिरफ्तार होने पर उज्जैन सीईओ भुवनेश साहू ने सेल्स प्रमोटर सौरभ जैन को निलंबित कर उज्जैन अटैच दिया है। जीएम बीरम के खिलाफ कार्रवाई के लिए भोपाल एमडी को पत्र लिखा है जहां से सोमवार तक कार्रवाई हो जाएगी।

प्लांट में चल रही दूध की हेराफेरी के बारे में कर्मचारियों ने बताया 48 रुपए लीटर कीमत के अधिक फेट वाले सांची गोल्ड के पैक में कम दूध भरते थे। बचे दूध में पानी मिलाकर सांची टीएम (32 रुपए लीटर) के पैकेट बनाते थे और एजेंटों के नाम पर फर्जी गेटपास बनाकर दूध सप्लाई कर देते थे। कम दूध के पैकेट बड़े एजेंटों के माल में मिला देते थे और शिकायत होने पर लीकेज बताकर हिसाब बराबर कर देते थे। सांची प्लांट से सामान्य दिन में पांच हजार लीटर दूध की खपत होती है और सीजन में आंकड़ा सात हजार लीटर तक पहुंच जाता है। कर्मचारियों के अनुसार राेज 200 से 250 लीटर दूध की हेराफेरी चल रही थी।

सप्लाई बंद तो भी दूध पहुंच जाता था

सांची दूध के रतलाम के 105 एजेंटों को शिकायतकर्ता रमित की फर्म जैन एजेंसी के माध्यम से दूध सप्लाई होता है। डिस्ट्रीब्यूशन के लिए 2016 से लोडिंग वाहन का कांट्रेक्ट उनका ही है। रमित ने बताया दूध सप्लाई और बिल वसूली का उनका कांट्रेक्ट था। एजेंटों द्वारा बिल भुगतान नहीं करने पर उन्होंने सप्लाई बंद कर दी थी। बावजूद उन एजेंटों के काउंटर से दूध बिकता था। शंका होने पर पता किया तो दूध के हेर-फेर की जानकारी मिली। रमित ने बताया प्लांट में दूध पैकिंग का काम ठेके पर होता है। मैनेजर के दबाव के कारण ठेकेदार के कर्मचारी प्लांट में हेराफेरी करने के लिए मजबूर थे। अतिरिक्त दूध थैलियों में भरकर बाइक से सप्लाई किया जाता था।

जांच करने रतलाम आएंगे एजीएम

सांची प्लांट के कांट्रेक्टर आनंद कॉॅलोनी निवासी रमित जैन की शिकायत पर लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार को 10 हजार रुपए की रिश्वत लेते प्लांट मैनेजर जी.एल. बीरम और सेल्स प्रमोटर सौरभ जैन को गिरफ्तार किया है। रमित जैन का डीजल बिल का 1 लाख 38 हजार रुपए बकाया था जिसके भुगतान के लिए मैनेजर बीरम ने दस हजार रुपए रिश्वत ली थी। लोकायुक्त पुलिस ने पूछताछ की तो मैनेजर बीरम ने कहा उन्हें ऊपर तक पैसा देना पड़ता है इसलिए रिश्वत नहीं लें तो क्या करें? ऊपर तक रुपए पहुंचाने के मैनेजर बीरम के बयान और प्लांट में चल रही हेरफेर के संबंध में सीईओ साहू ने बताया एजीएम डी.पी. सिंह को जांच के लिए रतलाम भेजेंगे।

दूध के हेरफेर की भी जांच की जाएगी

X
Ratlam News - mp news 200 liter milk manipulation of daily sanchi plant was suspended sales promoter suspended in bribe case
COMMENT