• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Jaora News mp news accused arrested after 14 years after cid investigation in ndps case registered in two states

दो राज्यों में दर्ज एनडीपीएस मामले की सीआईडी जांच करवा चुका आरोपी 14 साल बाद गिरफ्तार

Ratlam News - सिटी थाना पुलिस ने एक चर्चित एनडीपीएस मामले में 14 साल से फरार आरोपी को गुजरात से गिरफ्तार किया। वह खुद को अंग्रेजी...

Jan 16, 2020, 08:06 AM IST
Jaora News - mp news accused arrested after 14 years after cid investigation in ndps case registered in two states
सिटी थाना पुलिस ने एक चर्चित एनडीपीएस मामले में 14 साल से फरार आरोपी को गुजरात से गिरफ्तार किया। वह खुद को अंग्रेजी अखबार का प्रतिनिधि बता रहा है। पुलिस जांच में पता चला कि मप्र व गुजरात में एनडीपीएस के दो मामले में वह अपने खिलाफ दर्ज प्रकरण को पुलिस व दुश्मनों की साजिश बताकर सीआईडी जांच करवा चुका है। जावरा मामले में तो सीआईडी जांच की फाइल जाने कहां दब गई लेकिन गुजरात मामले में वहां के तत्कालीन टीआई समेत अन्य पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज हो चुका है।

सिटी पुलिस के अनुसार वर्ष 2007 में चौपाटी क्षेत्र स्थित होटल से रमेश नायक निवासी झाबुआ के कब्जे से अफीम जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार किया था। तब पुलिस को बताया था कि उसके साथ प्रकाश पिल्लई भी था जो बाजार गया है। पुलिस ने प्रकाश को भी आरोपी बनाया जो अब तक फरार था। उस मामले में रमेश नायक को तो सजा हो चुकी है।

सीएसपी अगम जैन ने बताया आरोपी पिल्लई की तलाश में एएसआई केके सिंह व आरक्षक ईश्वरसिंह की टीम बनाकर गुजरात भेजा। आरोपी प्रकाश पिता ज्योतिपंड्यान पिल्लई (48) निवासी ई-9 सुपरमैन सोसायटी अरुणाचल बस स्टैंड के पास सुभानपुरा बड़ोदरा गुजरात से गिरफ्तार करके लाए। इसके बाद कोर्ट में पेश किया।

आरोपी प्रकाश पिल्लई

गुजरात में पुलिस ने इसे फंसाया था बाद में पुलिस खुद ही फंस गई

एएसआई सिंह ने बताया प्रकाश का कहना है कि वह गुजरात में कोई अंग्रेजी अखबार चलाता है। उसने कहा कि कुछ साल पहले मेरे एक दुश्मन ने एनडीपीएस एक्ट में फंसाने के लिए बड़ोदरा के गौरवा थाना पुलिस की मदद से मेरे घर में अफीम रखवा दी और पुलिस ने मेरे ऊपर केस दर्ज कर लिया। घर में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए थे, उसकी क्लिप के आधार पर पुलिस के खिलाफ शिकायत की। जांच में सबूत के तौर पर सीसीटीवी फुटेज पेश किए। इनमें पुलिस मेरे एक दुश्मन के जरिए अफीम रखवाकर केस बनाती नजर आ रही है। सीआईडी जांच के आधार पर गौरवा थाने के तत्कालीन अधिकारियों पर केस दर्ज हो चुका है। जावरा के मामले में भी आरोपी ने भोपाल सीआईडी के समक्ष शिकायत कर बताया था कि यहां भी गुजरात वाले मामले में ही मेरे खिलाफ षड्यंत्रपूर्वक केस बनाया है। इसलिए भोपाल सीआईडी ने जांच की थी, हालांकि इसकी जांच रिपोर्ट के बारे में स्थानीय पुलिस को कोई जानकारी नहीं है।

X
Jaora News - mp news accused arrested after 14 years after cid investigation in ndps case registered in two states
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना