• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Ratlam News mp news district hospital did not make super specialty center 14 doctors panel created also selected patient now the plan is closed

जिला अस्पताल नहीं बना सुपर स्पेशियलिटी सेंटर : 14 डॉक्टरों की पैनल बनाई, मरीज का भी किया चयन, अब योजना ही बंद

Ratlam News - जिला अस्पताल को सुपर स्पेशियलिटी सेंटर बनाने का सपना अब फिर टूट गया है। करीब दो साल पहले एक योजना आई थी इसमें...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 09:00 AM IST
Ratlam News - mp news district hospital did not make super specialty center 14 doctors panel created also selected patient now the plan is closed
जिला अस्पताल को सुपर स्पेशियलिटी सेंटर बनाने का सपना अब फिर टूट गया है। करीब दो साल पहले एक योजना आई थी इसमें अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर में ऐसी सर्जरियों की शुरुआत होनी थी जोकि अब तक नहीं हो पाती है। सर्जरी करने के लिए सरकारी व निजी डॉक्टरों की पैनल बनी, मरीजों का चयन भी कर लिया लेकिन सर्जरी एक भी नहीं हो सकी। अब प्रबंधन इस योजना के बंद होने की बात कह रहा है।

लेप्रोस्कोप से बच्चेदानी की सर्जरी, कुल्हे, घुटने की सर्जरी आदि जिला अस्पताल में नहीं हो पाती है। ऐसे में जनरल सर्जरी, आर्थोपेडिक्स, ईएनटी व गायनॉकोलाजी की सर्जरी को जिला अस्पताल में ही निजी डॉक्टरों की मदद से करवाने की योजना बनाई गई थी। कुछ उपकरणों की जरूरत थी इसके लिए 35 लाख रुपए मंजूर भी कर दिए गए। 14 निजी डॉक्टरों की टीम बनाई जोकि अस्पताल में ही आकर यह सर्जरी करती। अब शासन ने ही इस योजना को बंद कर दिया है।

कुछ समय की परेशानी, मेडिकल कॉलेज के अस्पताल से है उम्मीद

दावा : आयुष्मान भारत योजना में कवर होने से बंद हुई याेजना- सिविल सर्जन डॉ. आनंद चंदेलकर ने बताया सुपर स्पेशिएलिटी योजना में जो सर्जरी होना थी, उनमें से ज्यादातर आयुष्मान भारत योजना में ही कवर हो रही है। ऐसे में इस योजना को बंद कर दिया गया है। ओटी को हम अभी भी लगातार अपडेट कर रहे हैं।

हकीकत : निजी अस्पताल नहीं जुड़े - ज्यादातर सर्जरी को भले आयुष्मान भारत में कवर कर लिया गया हो लेकिन हकीकत यह है कि इस योजना में अभी रतलाम का एक भी निजी अस्पताल नहीं जुड़ा है। ऐसे में मरीजों को इंदौर या वडोदरा ही इलाज के लिए जाना है। सुपर स्पेशिएलिटी योजना में रतलाम में ही मरीजों को यह फायदा मिलता।

आगे क्या : मेडिकल कॉलेज से होगा फायदा - अभी मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल का काम चल रहा है। यहां 12 मॉड्यूलर ऑपरेशन थिएटर बनाए जा रहे हैं। विशेषज्ञ डॉक्टर भी कॉलेज में होने से इनमें ज्यादातर सर्जरी हो सकेगी। फिलहाल अस्पताल की शुरुआत होने में चार महीने का वक्त लग सकता है।

सुपर स्पेशियलिटी में हो सकती थी यह सर्जरी

जनरल सर्जरी : लेप्रोस्कोपिक कालेकाइस्टोमी, लेप्रोस्कोपिक एपेंडिसेक्टोमी, लेप्रोस्कोपिक हर्नियोप्लास्टी हरदेनिया इंदुलाल रिपेयर तथा ट्रांस यूरेथ्रल रिसेक्शन आॅफ प्रोस्टेट।

आर्थोपेडिक्स : टोटल हिप रिप्लेसमेंट, टोटल नी प्लेसमेंट, आर्थोस्कोपी डायग्रोस्टिक, आर्थोस्कोपी थेरेप्टिक विद आउट इंप्लांट, आर्थोस्कोपी थेरेप्टिक विथ इंप्लांट।

ईएनटी : टाईप्मोनोप्लास्टी टाईप-1, टाईप्मोनोप्लास्टी टाईप-2, मॉडिफाइड रेडिकल मेस्टोडिक्टोमी, ओरल पालीपेक्टोमी, गायनोकोलॉजी में केलपोस्कोपिक डॉयग्नोस्टिक प्रोसीजर, हाईस्ट्रोस्कोपिक डायग्रोस्टिक, हाईस्ट्रोस्कोपिक थेरेप्युटिक, लेप्रोस्कोपिक रिसेक्शन आॅफ ओवेरियन काईस्ट।

X
Ratlam News - mp news district hospital did not make super specialty center 14 doctors panel created also selected patient now the plan is closed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना