• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Tal News mp news doctor chunke roka postmortem eyes disappearing from the dead body of the executioner

फांसी लगाने वाले नाबालिग के शव से आंखें गायब देख डाॅक्टर चौंके, रोका पोस्टमॉर्टम

Ratlam News - इंदौर | जिला अस्पताल में लाए गए नाबालिग का शव देख फारेंसिक एक्सपर्ट दंग रह गए और पोस्टमाॅर्टम रुकवा दिया। दरअसल शव...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 09:30 AM IST
Tal News - mp news doctor chunke roka postmortem eyes disappearing from the dead body of the executioner
इंदौर | जिला अस्पताल में लाए गए नाबालिग का शव देख फारेंसिक एक्सपर्ट दंग रह गए और पोस्टमाॅर्टम रुकवा दिया। दरअसल शव में आंखें नहीं थीं। एरोड्रम पुलिस के अनुसार भोलेनाथ कॉलोनी में अनुराग (17) पिता अशोक ने शुक्रवार रात फांसी लगा ली थी। पुलिस ने रात में ही शव बरामद कर जिला अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के लिए रखवा दिया था। शनिवार दोपहर 12.50 बजे एरोड्रम थाने के एएसआई यादव ने फारेंसिक एक्सपर्ट डॉ. भरत वाजपेयी को पंचनामे के कागज सौंपे। जब डॉ. वाजपेयी ने शव देखा तो आंखें नहीं देख चौंक गए और पीएम रोक दिया। डॉक्टर ने एएसआई से पूछा तो उन्होंने जानकारी होने से इनकार कर दिया। बात परिजन तक पहुंची तो उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल के ड्यूटी डॉक्टर दिनेश आचार्य को आवेदन देकर मुस्कान ग्रुप को आंखें दान करवाई थीं।

पुलिस की जानकारी के बिना अंग दान नहीं कर सकते : डॉ. वाजपेयी का कहना है आंखें दान करना अच्छी बात है, लेकिन कानूनन पुलिस के पंचनामे में इसका जिक्र होना चाहिए। ऐसे केस में पुलिस को बिना बताए शव का कोई भी अंग दान नहीं किया जा सकता।

इंदौर | जिला अस्पताल में लाए गए नाबालिग का शव देख फारेंसिक एक्सपर्ट दंग रह गए और पोस्टमाॅर्टम रुकवा दिया। दरअसल शव में आंखें नहीं थीं। एरोड्रम पुलिस के अनुसार भोलेनाथ कॉलोनी में अनुराग (17) पिता अशोक ने शुक्रवार रात फांसी लगा ली थी। पुलिस ने रात में ही शव बरामद कर जिला अस्पताल में पोस्टमॉर्टम के लिए रखवा दिया था। शनिवार दोपहर 12.50 बजे एरोड्रम थाने के एएसआई यादव ने फारेंसिक एक्सपर्ट डॉ. भरत वाजपेयी को पंचनामे के कागज सौंपे। जब डॉ. वाजपेयी ने शव देखा तो आंखें नहीं देख चौंक गए और पीएम रोक दिया। डॉक्टर ने एएसआई से पूछा तो उन्होंने जानकारी होने से इनकार कर दिया। बात परिजन तक पहुंची तो उन्होंने बताया कि जिला अस्पताल के ड्यूटी डॉक्टर दिनेश आचार्य को आवेदन देकर मुस्कान ग्रुप को आंखें दान करवाई थीं।

पुलिस की जानकारी के बिना अंग दान नहीं कर सकते : डॉ. वाजपेयी का कहना है आंखें दान करना अच्छी बात है, लेकिन कानूनन पुलिस के पंचनामे में इसका जिक्र होना चाहिए। ऐसे केस में पुलिस को बिना बताए शव का कोई भी अंग दान नहीं किया जा सकता।

X
Tal News - mp news doctor chunke roka postmortem eyes disappearing from the dead body of the executioner
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना