बैंक चालू पर व्यापारी नहीं कर पा रहे ट्रांजेक्शन

Ratlam News - लॉकडाउन में जिला प्रशासन ने दूध, किराना, सब्जी की दुकानें खोलने का समय सुबह 7 से 11 बजे तक तय कर रखा है और सुबह 11 बजे...

Mar 27, 2020, 08:17 AM IST

लॉकडाउन में जिला प्रशासन ने दूध, किराना, सब्जी की दुकानें खोलने का समय सुबह 7 से 11 बजे तक तय कर रखा है और सुबह 11 बजे बाद आवाजाही बंद कर दी जाती है। वहीं बैंक खुलने का समय सुबह 10 से दोपहर 2 बजे है। ऐसे में व्यापारी दुकानें बंद करने के बाद जब राशि जमा कराने बैंक जा रहे हैं। तब तक आवाजाही बंद हो जाती है। ऐसे में व्यापारी लेन-देन नहीं कर पा रहे हैं। वहीं कई व्यापारी सीडीएम में रुपए जमा कराने जा रहे हैं। तो वहां भी रुपए जमा नहीं हो पा रहे है। इससे कारोबारी परेशान हैं।

रावटी में दो दिन से बंद एटीएम, लोग परेशान


रावटी | रावटी में सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम दो दिन से बंद है। इससे ग्राहकों को परेशानी आ रही है और वे रुपए नहीं निकाल पा रहे हैं। गुरुवार को भी एटीएम बंद रहा। लोगों ने बताया आए दिन एटीएम बंद रहता है। इससे रुपए नहीं निकलते हैं। लॉकडाउन में एक ओर तो बैंकें लोगों से सीडीएम में रुपए जमा करने और एटीएम में रुपए निकालने का बोल रही है। वहीं दूसरी तरफ एटीएम ही बंद है। इससे दिक्कत आ रही है।

लीड बैंक मैनेजर बोले संचालनालय वित्त मप्र ने तय कर रखा है समय

छूट अवधि में कारोबार पूरा होने के बाद आवाजाही बंद होने से आ रही है दिक्कत

थोक किराना व्यापारी संघ के गोविंद अग्रवाल ने बताया लॉक डाउन में व्यापारी सुबह 7 से 11 बजे तक कारोबार कर रहे हैं। इसके बाद सामान समेटने में समय लगता है तब तक शहर में आवाजाही बंद कर दी जाती है। इससे कारोबारी को आने जाने में दिक्कत आ रही है। वहीं कई बैंकें व्यापारियों के रुपए जमा करने में भी आनाकानी कर रही है। रुपए जमा नहीं होंगे तो कारोबारी सामान कैसे मंगाएंगे। इससे व्यापारियों को छूट दी जाए और हो सके तो पास जारी किए जाएं ताकि रुपए जमा कर सकें।

रुपए निकालने गए तो जवाब मिला नहीं निकलेंगे एटीएम में जाओ

महू रोड निवासी राजेश जैन मित्र निवास रोड स्थित स्टेट बैंक इंडिया की ब्रांच रुपए जमा कराने पहुंचे तो जवाब मिला। बाहर लगी सीडीएम मशीन में रुपए जमा कराओ। इससे उन्हें सीडीएम मशीन में रुपए जमा कराए। लेकिन मशीन ने भी कई नोट नहीं लिए। पैलेस रोड निवासी देवेंद्र जोशी सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की लोकेंद्र टॉकीज ब्रांच पहुंचे तो जवाब मिला। आप बैंक में ना आओ एटीएम से रुपए निकालो। जबकि बैंक में लेन-देन भी होना है।

लीड बैंक मैनेजर राकेश गर्ग ने बताया बैंक खुलने का समय संचालनालय वित्त मप्र ने तय किया है। पहले एक-दो दिन बैंकों में लेन-देन की समस्या थी। लेकिन अब नहीं है और रोज लेन-देन हो रहे हैं। रोज 150 से ज्यादा ट्रांजेक्शन हो रहे हैं। कोई भी बैंकें लेन-देन से मना नहीं कर सकती है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना