• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Ratlam News mp news mumukhshu amrit and kiran munat diksha are accepted by navadikshit amritamuni and sadhvi jnana shreeji
विज्ञापन

मुमुक्षु अमृत व किरण मूणत दीक्षा अंगीकार कर नवदीक्षित अमृतमुनि व साध्वी तरुणाश्रीजी बने

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:46 AM IST

Ratlam News - नागर वास निवासी मुमुक्षु अमृत मूणत व किरण मूणत ने जैन भागवती दीक्षा अंगीकार कर मंगलवार को नए जीवन की शुरुआत की। वे...

Ratlam News - mp news mumukhshu amrit and kiran munat diksha are accepted by navadikshit amritamuni and sadhvi jnana shreeji
  • comment
नागर वास निवासी मुमुक्षु अमृत मूणत व किरण मूणत ने जैन भागवती दीक्षा अंगीकार कर मंगलवार को नए जीवन की शुरुआत की। वे अब प्रवर्तक श्री जिनेंद्र मुनि मसा के शिष्य नवदीक्षित श्री अमृतमुनि व महासती श्री पुण्यशीलाजी मसा की शिष्या साध्वीश्री तरुणाश्रीजी के नाम से पहचाने जाएंगे। दीक्षा के असंख्य लोग साक्षी बने। प्रवर्तक श्री ने जय-जयकार के अनुमोदना के बीच दोनों को दीक्षा प्रदान की। उनकी बड़ी दीक्षा 22 अप्रैल को रावटी में होगी।

गोपाल गोशाला काॅलोनी स्थित समता सदन में दीक्षा के साथ ही दो दिनी महोत्सव का समापन हुआ। सोमवार शाम को भाव-भक्ति से परिपूर्ण मातृ-पितृ वंदन समारोह के बाद मंगलवार सुबह निवास स्थान से मुमुक्षु दंपती की महाभिनिष्क्रमण यात्रा निकली। दीक्षा स्थल पर पहुंचने पर प्रवर्तक श्री व मुनिमंडल ने आओ-आओ वीर, दिल में आए, विराजे वीर के बोल से स्तवन प्रस्तुत किया। मुमुक्षु दंपती के पुत्र व सौभाग्य जैन नवयुवक मंडल के पूर्व अध्यक्ष सौरभ मूणत ने कहा मालव केसरी सौभाग्यमलजी मसा, आचार्य प्रवर उमेश मुनिजी मसा व श्रमण संघीय प्रवर्तक प्रकाश मुनिजी मसा के आशीर्वाद से दौलतराम, मिश्रीमल मूणत परिवार में आज प्रवर्तक जिनेंद्र मुनिजी मसा के मुखारविंद से दीक्षा का प्रसंग हुआ।

बड़ों की कृपा से शूरवीर ही इस मार्ग पर आगे बढ़ते हैं-प्रर्वतकश्री

मुमुक्षु अमृत मूणत एवं किरण मूणत ने क्षमा याचना की और वेष परिवर्तन के लिए गए। साध्वी प्रशम प्रभा व शमप्रभाजी ने स्तवन प्रस्तुत किया। साध्वी अनुपमशीलाजी, गिरिश मुनिजी व अणु वत्स संयत मुनिजी ने संबोधित किया। प्रवर्तक श्री ने कहा संयम का मार्ग शूरवीर का है। बड़ों की कृपा से शूरवीर ही इस मार्ग पर आगे बढ़ते हैं। उन्होंने दीक्षा विधि आरंभ करने से पूर्व श्री धर्मदास जैन गण परिषद के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष रजनीकांत झामर, श्री संघ अध्यक्ष अरविंद मेहता व दीक्षार्थी के परिजन से औपचारिक आज्ञा ली। मांगलिक श्रवण कराई और दीक्षा विधि सम्पन्न कर प्रतीकात्मक केश लोच किया। नवदीक्षित मुनि व साध्वीजी ने मांगलिक श्रवण कराई। संचालन वीरेंद्र मेहता ने किया।

दीक्षा अंगीकार के बाद मुमुक्षु दंपत्ती।

मुमुक्षु किरण प्रजापत का दीक्षा महोत्सव आज से

बाजना |
आचार्य गुरुदेव श्री विश्वर| सागर सूरीश्वरजी मसा के मार्गदर्शन व साध्वीवर्या सिद्धांत ज्योति श्रीजी मसा की प्रेरणा से नगर की मुमुक्षु किरण दीक्षा अंगीकार करने जा रही हैं। उज्जैन परिवार में जन्म लेकर माता-पिता के आदर्श व सुसंस्कारों का सिंचन हुआ व जन्मदाताओं ने जिनशासन के उच्च सिद्धांतों की पहचान करवाई। निश्चित रुप से पूरा परिवार तथा प्रजापत समाज पुण्य का हकदार बना है। साधु साध्वी भगवानों की पावन निश्रा में दीक्षा महोत्सव 17 से 25 अप्रैल तक होगा। मुमुक्षु किरण प्रजापत दीक्षा ग्रहण कर मुक्ति के मार्ग पर कदम रखेगी।

X
Ratlam News - mp news mumukhshu amrit and kiran munat diksha are accepted by navadikshit amritamuni and sadhvi jnana shreeji
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन