पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पेस्ट कंट्रोल का फर्जीवाड़ा... दवा डाल दी... चूहों के बिल बंद करना भूल गए

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल के आईसीयू में दो दिन पहले चूहे द्वारा युवक के पैर का तलवा कुतरने के मामले में जिला अस्पताल प्रबंधन की नई लापरवाही उजागर हुई। अस्पताल में बुधवार को पेस्ट कंट्रोल के नाम का दिखावा किया गया। जिम्मेदार व कंपनी के अधिकारी तो चूहे भगाने की बात कह रहे हैं लेकिन हकीकत यह है आईसीयू के पीछे ही चूहों ने 5 से ज्यादा बिल बना रखे हैं। अधिकारी इन बिलों को बंद करवाना भूल गए।

जिला अस्पताल में बुधवार को आईसीयू सहित वार्डों में पेस्ट कंट्रोल हुआ। कर्मचारियों ने चूहों को मारने की दवा डाली तो स्प्रे भी किया, लेकिन यह सिर्फ दिखावटी था क्योंकि अस्पताल में ना तो चूहों के वार्डों में घुसने की जगह को बंद किया ना ही यहां वहां बने चूहों के बिल को पैक किया। पेस्ट कंट्रोल का जायजा लेने ठेका लेने वाली कंपनी (इंगले पेस्ट कंट्रोल) के अधिकारी भी अस्पताल पहुंचे थे।

आईसीयू व ईसीजी के पीछे खाली पड़ी जमीन पर 5 से ज्यादा बिल

ये फीमेल वार्ड से रेडक्रॉस दवाई की दुकान की तरफ जाने वाले रास्ते के बीच की दीवार में चूहों के बिल।

शुक्र है… यहां तक नहीं पहुंचे चूहे

ये जिला अस्पताल के फीमेल वार्ड की स्थिति है। एक तरफ जहां आईसीयू जैसे संवेदनशील वार्ड में बेड के ऊपर मरीज के तलवे को चूहे ने कुतर दिया। यहां तो जमीन पर ही मरीज रात गुजार रहे हैं। वार्ड में 18 बेड लगे है… तकरीबन इतने ही मरीज जमीन पर है।

आईसीयू व ईसीजी कक्ष के पीछे खाली पड़ी जमीन पर चूहों के 5 से ज्यादा बिल है।

अधिकारी बोले दो दिन बाद नया टेंडर होना है

कंपनी के अधिकारी जय इंगले ने बताया हमने अस्पताल के पेस्ट कंट्रोल का जायजा लिया है। लगातार पेस्ट कंट्रोल नहीं होने से ही चूहे बढ़े हैं। बुधवार को पेस्ट कंट्रोल करवाया है। चूहों के बिल व अन्य जगहों को इसलिए पैक नहीं किया क्योंकि दो दिन बाद नया टेंडर होना है। यह इमरजेंसी वन टाइम पेस्ट कंट्राेल था। रिपिट पेस्ट कंट्रोल किया है।

डिप्टी कलेक्टर ने भी लिया अस्पताल का जायजा

जिला अस्पताल में बुधवार को डिप्टी कलेक्टर शिराली जैन भी पहुंचीं। उन्होंने अस्पताल का जायजा लिया। साथ ही सिविल सर्जन कक्ष में चूहों द्वारा युवक का तलवा कुतरने की घटना के बारे में पूछताछ की। जैन ने बताया अस्पताल में साफ सफाई करवाने का कहा है।

खबरें और भी हैं...