ऐसी है पुलिस / 2 घंटे में साढ़े 4 लाख का सोना ठग ले गया बदमाश, थाना क्षेत्र तय करने में पुलिस को 16 दिन लगे



सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ ठग। सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ ठग।
X
सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ ठग।सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ ठग।

  • 26 जून की घटना, 11 जुलाई को दर्ज की रिपोर्ट, दो थानों में झूलता रहा मामला 

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2019, 11:43 AM IST

रतलाम. डीपी ज्वैलर्स का साढ़े चार लाख रुपए का सोना बदमाश दो घंटे में ठग गया। मयंक होटल के मैनेजर के अनुसार बदमाश ने घटना वाले दिन 26 जून को सुबह 10.30 बजे कमरा लिया और दोपहर 12.30 बजे कमरा खाली वापस चला गया। 

 

बदमाश का दो घंटे में ठगी को अंजाम देना साफ करता है कि उसने सोना ले जाने वाले व्यक्ति की किस कदर रैकी कर रखी थी। बदमाश दो घंटे में अपना काम कर गया लेकिन पुलिस को एफआईआर दर्ज करने के लिए घटनास्थल का थाना क्षेत्र तय करने में 16 दिन लग गए। 

 

चांदनीचौक स्थित नेपलाॅग लाजिस्टिक कोरियर एजेंसी के राकेश सैनी निवासी सुथारों का वास ने पुलिस को बताया झुंझनू निवासी पंकज सैनी उनकी कोरियर कंपनी में डिलेवरी बाय है। 26 जून को वह डीपी ज्वैलर्स के आभूषणों के पार्सल लेकर चांदनी चौक से रवाना हुआ। किराए की कार लेने बस स्टैंड गया। वहां उससे एक व्यक्ति मिला, उसने खुद को पुलिसकर्मी बताया और अधिकारी से बैग की चैकिंग करवाने का कहकर स्टेशन रोड स्थित मयंक होटल ले गया। 

 

पंकज ने कॉल कर राकेश को बताया और कथित पुलिसकर्मी के साथ होटल चला गया। होटल में उस व्यक्ति ने बैग से दो पार्सल खोले। एक में सोने के 52.77 ग्राम तथा दूसरे पार्सल में 84.40 ग्राम वजनी आभूषण थे। जांच कराने का कहकर दोनों पार्सल लेकर चला गया। 

 

टालते रहे फरियादी को 
कोरियर कंपनी के कर्मचारी ने 26 जून को ही माणकचौक थाने में वारदात की जानकारी दी लेकिन घटनास्थल तय करने के चक्कर में मामला स्टेशन रोड थाने और माणकचौक थाने में झूलता रहा। फरियादी थानों के चक्कर काटते रहे। फरियादी एसपी गौरव तिवारी के पहुंचे तो गुरुवार को स्टेशन रोड थाने में प्रकरण दर्ज हुआ। स्टेशन रोड थाना प्रभारी राजेंद्र वर्मा ने बताया एसपी के कहने पर प्रकरण दर्ज किया है। माणकचौक थाना प्रभारी आरएस बर्डे ने बताया करीब 5 दिन पहले शिकायत मिली थी लेकिन जांच में पता चला कि वारदात स्टेशन रोड थाना क्षेत्र की है तो मामला वहां भिजवा दिया। 

 

ठग की सायबर सेल को खुली चुनौती - ट्रू कॉलर पर नाम की जगह लिखा '..के नाम से पैसे ले जाता है' 
फरियादी राकेश सैनी ने बताया आरोपी ने होटल के रजिस्टर में अपना नाम ओमप्रकाश गुप्ता निवासी मिश्रा काॅलोनी ग्वालियर और मोबाइल नंबर 9826342885 लिखवाया है, जिस पर वह '.. के नाम से पैसे लेता है' लिखकर पुलिस की सायबर सेल को खुली चुनौती दे रहा है। 


सीसीटीवी कैमरे में कैद

सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में पहले आरोपी फिर दो मिनट बाद डिलेवरी बाय होटल में घुसते दिखा है। होटल में घुसने के बाद दोनों ने दस मिनट बात की। टीआई राजेंद्र वर्मा ने बताया आरोपी का मोबाइल फोन बंद है। सिम फर्जी दस्तावेज से जारी हुई है। पुलिस ग्वालियर जाएगी।
 
रैकी कर शिकार बनाया 
आरोपी जिस तरह होटल में कमरा लेकर रुका और फिर सोना लेकर जा रहे कोरियर बाय को निशान बनाया, उससे साफ लग रहा है कि आरोपी ने होटल में रुककर रैकी की। उसने पता किया कि किस कोरियर से सोना सप्लाई होता है और कौन कोरियर बाय सोने को यहां से वहां ले जाता है। आरोपी ने षड़यंत्र कर ठगी को अंजाम दिया है क्योंकि उसने होटल में नकली आधार कार्ड की फोटोकॉपी लगाई है। उसने सिम भी फर्जी दस्तावेज से ले रखी हैं। आशंका है कि आरोपी पहले भी रतलाम आकर रैकी करके गया है। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना