सत्संग आत्मा पर लगे जन्मांतर के अज्ञान को दूर करता है

Ratlam News - सत्संग का एक पल आत्मा पर लगे जन्मांतर के अज्ञान को दूर कर प्रकाश को अलौकिक कर देता है। सत्संग का प्रभाव इंसान के...

Feb 15, 2020, 08:00 AM IST
Jaora News - mp news satsang removes ignorance of birth on the soul

सत्संग का एक पल आत्मा पर लगे जन्मांतर के अज्ञान को दूर कर प्रकाश को अलौकिक कर देता है। सत्संग का प्रभाव इंसान के साथ पशु और पूरी संस्कृति पर पड़ता है। आज के विज्ञान ने सिद्ध कर दिया है।

यह बात राष्ट्रसंत कमलमुनि कमलेश ने भाटखेड़ा सर्वधर्म गोशाला में जैन संत विहार तीर्थ उद्घाटन समारोह में कही। उन्होंने कहा गुरु के एक शब्द का ज्ञान प्राप्त करना उसकी तुलना विश्व की संपूर्ण संपत्ति दान देकर भी नहीं किया जा सकता है। महापुरुषों की संगत विकारों और बीमारियों से मुक्ति दिलाती है। यह ब्रेन फिल्टर प्लांट है। संत संस्कृति का शृंगार, आध्यात्म का आधार और साधना का भंडार चलता-फिरता तीर्थ है। मुनि कमलेश ने कहा कानून डंडे दबाव से दबाया जा सकता है। विचारों का परिवर्तन संभव नहीं है, परिवर्तन संगति से संभव है। गोशाला संस्थापक अध्यक्ष बालाराम, कोषाध्यक्ष पुखराज भंडारी ने कहा राष्ट्रसंत के 64वें जन्मदिन के सात दिवसीय कार्यक्रम के उपलक्ष्य में जैन संत विहार तीर्थ का उद्घाटन हआ। नंदलाल धाकड़, शैतानमल जैन ने बताया 12 साल पहले राष्ट्रसंत की प्रेरणा से गोशाला में जैन दिवाकर कमल पक्षी विहार का उद्घाटन किया। गोशाला में 700 गायें है। मांगीलाल भंडारी, मनीष मेहता ने राष्ट्रसंत का अभिनंदन किया। अभा जैन दिवाकर विचार मंच नईदिल्ली शाखा निंबोद के मनीष जैन ने बताया जन्मदिन के उपलक्ष्य में ग्वालों को मंच की ओर से वस्त्र वितरित किए। गायों को गुड़ खिलाया। तपस्वी घनश्याम मुनिजी ने मंगलाचरण किया। शनिवार को कामधेनु सर्कल का उद्घाटन होगा। संचालन राजेश कियावत ने किया। आभार पंकज मेहता ने माना।

भाटखेड़ा सर्वधर्म गोशाला में जैन संत विहार तीर्थ उद्घाटन समारोह में उपस्थित राष्ट्रसंत।

X
Jaora News - mp news satsang removes ignorance of birth on the soul
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना