• Hindi News
  • Mp
  • Ratlam
  • Ratlam News mp news students distributed the register in our interest what was the fault of those who were removed

छात्र : हमारे हित में रजिस्टर बंटवाए, उनकी क्या गलती जो हटाया

Ratlam News - पांच साल से दसवीं का 100 फीसदी परीक्षा परिणाम देने वाले मलवासा हाईस्कूल के प्राचार्य आरएन केरावत के निलंबन से...

Jan 16, 2020, 09:05 AM IST
Ratlam News - mp news students distributed the register in our interest what was the fault of those who were removed
पांच साल से दसवीं का 100 फीसदी परीक्षा परिणाम देने वाले मलवासा हाईस्कूल के प्राचार्य आरएन केरावत के निलंबन से शिक्षकों के साथ विद्यार्थियों में भी गुस्सा है। 9वीं एवं 10वीं के स्टूडेंट ने बुधवार को स्कूल परिसर में विरोध जताया।

बच्चों ने बताया कि हमें परीक्षा की तैयारी करने में कोई दिक्कत ना हो इसके लिए केरावत सर ने रजिस्टर बंटवाए। इसमें उनकी क्या गलती। इसके बाद भी उन्हें निलंबित कर दिया। वे हमें छुट्टी के दिन और रविवार के दिन भी पढ़ाते हैं। उनकी वजह से हम आज अच्छे नंबर ला पा रहे हैं। इसके बाद भी उन्हें हटा दिया। उन्हें स्कूल में वापस बुलाया जाए। यदि उन्हें स्कूल में वापस नहीं बुलाया जाता है तो हम स्कूल आना बंद कर देंगे। बच्चों के साथ ही अभिभावकों में भी निलंबन का विरोध जताया है। गौरतलब है कि वीर सावरकर एनजीओ ने 4 नवंबर 2019 को हाईस्कूल में पहुंच कर वीर सावरकर के फोटो वाले रजिस्टर बच्चों को बांटे थे। इस पर आयुक्त अजीत कुमार ने प्राचार्य को 14 जनवरी को निलंबित कर दिया था। इससे शिक्षकों के साथ बच्चों में गुस्सा है और वे कार्रवाई का विरोध जता रहे हैं।

सुबह स्कूल खुला और जैसे ही विद्यार्थियों को प्राचार्य के निलंबन की खबर मिली तो 10वीं की छात्रा रीना, जया बैरागी रोने लगी। इन्हें अन्य छात्राओं ने चुप कराया।

शिक्षक का नहीं बल्कि बच्चों का ही भला होता है

मप्र शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष सर्वेश माथुर ने बताया सामाजिक संस्थाओं द्वारा स्कूल परिसर में पहुंचकर शैक्षणिक सामग्री बांटने से शिक्षकों का नहीं बल्कि बच्चों का ही भला होता है। क्योंकि ग्रामीण क्षेत्र में कई बच्चे गरीब परिवार से होते हैं। ऐसे में सामाजिक संस्था स्कूल में पहुंच रजिस्टर, कापी, स्टेशनरी, स्वेटर बांटती है। इसमें गलत क्या है। ऐसा आज से नहीं बल्कि सालों से हो रहा है। इसमें प्राचार्य की कहां गलती है जो निलंबन कर दिया है।

सामग्री वितरण के लिए अनुमति जरूरी

डीईओ केसी शर्मा ने बताया सामग्री वितरण के लिए अनुमति की जरूरत होती है। वरिष्ठ कार्यालय से अनुमति के बगैर स्कूल परिसर में किसी भी प्रकार का कार्यक्रम नहीं कर सकते हैं। स्कूल में बच्चों ने विरोध दर्ज कराया। यह मुझे नहीं पता है।

प्राचार्य को तत्काल बहाल किया जाए : शिवराज

भोपाल |
पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित और शत-प्रतिशत परिणाम देने वाले प्राचार्य को निलंबित करने का समाचार सुनकर मन विचलित है। इस ओछी राजनीति की कड़ी निंदा करता हूं। तत्काल प्राचार्य को बहाल किया जाए। शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से कहा कि यदि आपने वीर सावरकर के बारे में पढ़ लिया होता तो आप ऐसा निकृष्टतम कृत्य नहीं करते।

जनसहयोग से कार्य करने के निर्देश, तो फिर निलंबन क्यों

समग्र शिक्षक समाज ने बुधवार को एसडीएम लक्ष्मी गामड़ को ज्ञापन सौंपा। इसमें बताया कि एनजीओ, सामाजिक संगठनों द्वारा सामग्री वितरण की जाती है। पूर्व में भी शासन ने जनसहयोग से विभागों द्वारा कार्य करने के निर्देश जारी कर रखे हैं। सहयोग पर रोक लगाना है तो स्पष्ट निर्देश जारी किए जाएं।

X
Ratlam News - mp news students distributed the register in our interest what was the fault of those who were removed
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना