पीएम सम्मान निधि के लिए आधार जमा कराया, नहीं दी राशि

Ratlam News - जनता को समस्याओं के निराकरण के लिए भटकना ना पड़े। इसलिए प्रदेश सरकार ने आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम शुरू किया...

Feb 15, 2020, 08:56 AM IST

जनता को समस्याओं के निराकरण के लिए भटकना ना पड़े। इसलिए प्रदेश सरकार ने आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम शुरू किया है। रतलाम ग्रामीण के बांगरोद, जावरा, आलोट, सैलाना में शिविर लगाए। इसमें प्रभारी मंत्री, विधायक और विभागों के अधिकारियों ने जनता के बीच पहुंच लोगों की समस्या सुनी। शिविर में जनता की समस्या का हाथोंहाथ निरकरण करने का दावा किया गया। लेकिन हकीकत इसके उलट है। शिविर में शिकायत के बाद समस्या का निराकरण नहीं हो पाया है और वे आज भी विभागों के चक्कर लगाने को मजबूर हैं।

जावरा : नहीं मिली किस्त

कब लगा शिविर- - 14 जनवरी

सैलाना : समस्या जस की तस है

कब लगा शिविर- 7 अगस्त 2019

बांगरोद : तीन महीने में भी हल नहीं

कब लगा शिविर- 15 नवंबर 2019

शिविर क्यों लगा रहे - किसान क्रांति सेना के जिलाध्यक्ष सुरेश पाटीदार ने बताया प्रभारी मंत्री सहित विभागों के अधिकारियों की मौजूदगी में शिविर रखे गए।िविर के नाम पर सरकार जनता को भ्रमित किया जा रहा है। जब समस्या दूर नहीं कर सकते हैं तो फिर शिविर क्यों लगाए जा रहे हैं।


शिविर में आईं शिकायतें : सरकार ने शिकायतों का हाथोंहाथ हल करने का दावा किया, हकीकत मामले पेंडिंग

अधिकतर शिकायतों का हाथोंहाथ निराकरण किया

प्रभारी मंत्री सचिन यादव ने बताया जनता की शिकायतों का निराकरण घर के पास ही हो जाए इसलिए शिविर रखे जा रहे हैं। शिविर में हाथोंहाथ निराकरण कर दिया गया। जो शिकायतें बच गई हैं उसके समाधान के प्रयास जारी हैं। कई शिकायतें बीपीएल कार्ड नहीं बनने को लेकर है। कार्ड का वेरीफिकेशन चल रहा है। जैसे ही यह पूरा होगा कार्ड बनाए जाएंगे। वहीं प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना संबंधित शिकायत है तो केंद्र से अंश नहीं आया है। वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना की भी शिकायत है।

हल हुआ- 148 का

शिकायतें आई- 850

रोजाना के जगन्नाथ प्रजापति को शिविर में शिकायत करने के एक महीने बाद भी पीएम सम्मान निधि की किस्त नहीं मिल पाई है। उन्होंने बताया पीएम सम्मान निधि के लिए आधार भी जमा करा दिया। इसके बाद भी राशि नहीं मिल पाई है। जबकि अन्य किसानों को मिल गई। शिविर में सात दिन में समस्या हल करना दावा किया था। एक महीना हो गया है।

हल हुआ- 179 का

शिकायतें आई- 435

रावटी निवासी पीरूलाल बोरिया ने बताया बस स्टैंड पर बिजली के तार नीचे हैं। आसपास मकान बने हुए हैं। इससे कभी भी हादसा हो सकता है। इसकी शिकायत की थी लेकिन आज तक यही स्थिति है। इससे लोगों को करंट लग सकता है और कभी भी दुर्घटना हो सकती है। जब शिकायत का हल करना ही नहीं था तो शिविर क्यों लगाया।


हल हुआ- 300

शिकायतें आई- 709

बांगरोद के आदिवासी मोहल्ले निवासी प्रकाश डाबी की शिकायत का हल नहीं हो पाया है। उन्होंने बताया मां श्यामूबाई को नसबंदी कराने पर 1982 में गांव में पट्टा मिला था। तीन साल पहले जब वे मकान निर्माण के लिए पहुंचे तो पता चला। जमीन का एक ओर पट्टा है। मैंने आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में शिकायत की। तीन महीने हो गए हैं। अब तक शिकायत का निराकरण नहीं हो पाया है।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना