पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Ratlam
  • Tal News Mp News Suvasara Bus Passengers Trapped In The Underbridge Water Saved Themselves From Climbing On The Roof

सुवासरा : अंडरब्रिज के पानी में फंसी बस यात्रियों ने छत पर चढ़कर खुद काे बचाया

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मंदसौर सहित जिलेभर में 24 घंटे में 2 इंच से ज्यादा बारिश दर्ज की गई। तेज बारिश से बुधवार को नदी-नाले व तालाब उफान पर हैं। इसके चलते जिले की तहसील सुवासरा के रेलवे अंडरब्रिज में पानी भर गया। यहां एक बस फंसने से करीब 40 यात्रियाें की जान जाेखिम में अा गई। इन्हें छत के रास्ते ब्रिज पर सुरक्षित पहुंचाया।

दरअसल अंडरब्रिज में पानी हाेने से सुबह से यात्री बसें एक किमी का अतिरिक्त सफर कर सुवासरा चौपाटी से गुजर रही थीं। दाेपहर में विजय लक्ष्मी बस आरजे 27 पीए 4545 के ड्राइवर ने अंडरब्रिज से ही निकालने का प्रयास किया। इससे ब्रिज के नीचे पानी की वजह से बस बंद हो गई। काफी प्रयास के बाद भी चालू नहीं अाैर चारों तरफ पानी ही पानी होने लगा ताे यात्री घबरा गए। करीब आधे घंटे बाद बस में सवार युवाओं व अन्य लोग बस की छत पर चढ़े अाैर यात्रियाें काे पीछे बनी सीढ़ियों के सहारे बस की खिड़की से छत अाैर अंडरब्रिज पर पहुंचाया। यहां से बस स्टैंड पास होने से लोग गंतव्य के लिए रवाना हो गए। दो घंटे बाद बस को जेसीबी की मदद से निकाला जा सका। आरटीओ ज्ञानेंद्र वैश्य ने बताया कि अंडरब्रिज में पानी होने पर बसों के लिए चौपाटी से वैकल्पिक मार्ग है। फंसी बस के ड्राइवर ने जानबूझ कर पानी से निकालने का प्रयास किया जिससे लोगों की जान जोखिम में आ गई। इस पर बस ड्राइवर का लाइसेंस, परमिट व फिटनेस निरस्त कर दिया है।

अंडरब्रिज में पानी अधिक होने से फंसी बस। छत से ब्रिज पर पहुंचे यात्री।

बड़वानी : खतरे के निशान से 4 मीटर ऊपर बह रही नर्मदा

राजघाट में नर्मदा पुल पर पहुंचा पानी।

बड़वानी | राजघाट में बुधवार को नर्मदा का जलस्तर 127.400 मीटर पर पहुंच गया। नर्मदा अभी खतरे के निशान से 4.12 मीटर ऊपर बह रही है। यहां खतरे का निशान 123.280 मीटर पर है। सुबह 10 बजे पानी पुल पर पहुंच गया था। इसके साथ ही नर्मदा बचाओ आंदोलन प्रमुख मेधा पाटकर ने डूब प्रभावितों के साथ राजघाट में बुधवार से अनिश्चितकालीन अनशन शुरू कर दिया है।

अनिश्चितकालीन अनशन शुरू

खबरें और भी हैं...