पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तापमान में गिरावट, विदेश से आए लोग 15 दिन घर में ही रहें

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जिलेभर में सप्ताहभर पहले आठ लोग विदेशों से यात्राएं करके लौटे हैं। इनमें से एक जावरा में है। यहीं की रहने वाली एक छात्रा मुंबई में है तथा बाकी सभी लाेग रतलाम शहर में निवासरत है। रतलाम में रहने वाले 6 में से दो आलोट के निवासी है लेकिन वे भी अभी रतलाम में ही रह रहे है। स्वास्थ विभाग ने इन सभी लोगों के लिए अपील जारी की है कि वे होम आइसोलेशन में रहें। यानी घर में ही रहें और किसी से मिले-जुले नहीं। यह उनके खुद के लिए, परिजन और शहरवासियों की सुरक्षा के लिए बेहद जरूरी है।

जिला स्वास्थ अधिकारी डॉ. जीआर गौड़ व एपिडेमोलॉजिस्ट डॉ. प्रमोद प्रजापति शनिवार को जावरा में आए। यहां एक शोरूम संचालक व उनके परिजन से मिले। संचालक 1 मार्च को ही मलेशिया की यात्रा से लौटे हैं। हालांकि यह पूरी तरह स्वस्थ है। फिर भी 15 दिन तक इन्हें होम आइसोलेशन में रहने की बात कही है। डॉ. गौड़ ने बताया कि कोरोना वायरस ठंडे मौसम में ज्यादा एक्टिव हो जाते हैं। कुछ दिन से प्रदेश में कहीं-कहीं बारिश हो रही तथा ओले गिरे। इससे मौसम में बदलाव आया और न्यूनतम पारा 14 तथा अधिकतम 24 डिग्री पर आ गया। यह घातक है क्योंकि कोरोना वायरस 30 डिग्री या इससे ज्यादा तापमान के बाद ही निष्क्रिय होता है। अभी मौसम ठंडा है, ऐसे में सभी को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत है। विदेशों से जो लोग आए वे भले ही स्वस्थ है लेकिन कम से कम 15 दिन उन्हें सावधान रहने की जरूरत है। इसके बाद वे घूमना व लोगों से मिलना शुरू कर सकते हैं। यदि कोरोना के लक्षण दिखे तो स्वास्थ विभाग को सूचना दें ।

तापमान बढ़ते ही खत्म होने लगेगा कोरोना वायरस- एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ. प्रमोद प्रजापति ने बताया कोरोना का संक्रमण ठंडे मौसम में ज्यादा तेजी से फैलता है। गर्मी में यह स्वतः खत्म होने लगता है। जैसे-जैसे तापमान बढ़ेगा इसका खतरा कम होता जाएगा। तब तक सावधानी जरूरी है। सर्दी-जुकाम, बुखार के मरीज अलर्ट रहें। किसी से मिले तो हाथ ना मिलाए।
**

आलोट भी पहुंची टीम

आलोट | आस्ट्रेलिया की यात्रा से 1 मार्च को लौटे आलोट बस स्टैंड क्षेत्र निवासी व्यक्ति की स्क्रीनिंग करने तथा परिजन को जरूरी सावधानी बरतने की समझाइश देने जिला रिस्पोंस टीम दोपहर में यहां आई। जिला मलेरिया अधिकारी प्रमोद प्रजापति व उनके साथियों ने सेंट्रल से आई सूची के आधार पर यहां विदेश से लौटे व्यक्ति की जानकारी निकाली। पता चला कि वह मूलतः रहने वाला तो आलोट का है लेकिन अभी आनंद नगर कॉलोनी रतलाम में है। इसलिए फोन पर संपर्क किया और अलर्ट रहने की बात कही।

जावरा में शोरूम संचालक व परिजन को समझाइश देते टीम के सदस्य।
खबरें और भी हैं...