--Advertisement--

एससी-एसटी एक्ट का विरोध: रास्ता बदलकर आए सांसद भूरिया फिर भी करणीसेना ने दिखा दिए काले झंडे

सांसद भूरिया बोले उन्हें न करणी सेना दिखी और न ही काले झंडे

Danik Bhaskar | Sep 10, 2018, 12:51 PM IST

रतलाम. कांग्रेस के जिला सम्मेलन में आए सांसद कांतिलाल भूरिया को एससी-एसटी एक्ट का विरोध कर रही करणी सेना ने काले झंडे दिखाए। इसके लिए सेना के कार्यकर्ताओं को भूरिया का डेढ़ घंटे तक इंतजार करना पड़ा। उन्होंने भूरिया द्वारा संसद में एक्ट का विरोध नहीं करने पर नाराजी जताई।

विरोध होने की आशंका के चलते रास्ता बदलकर विधायक सभागृह के पीछे से सांसद कांतिलाल भूरिया की गाड़ी सम्मेलन स्थल बरबड़ हनुमान मंदिर पहुंची। यहां करणी सेना के सदस्यों ने गाड़ी को घेर लिया। सांसद की गाड़ी निकालने को लेकर पुलिस, कांग्रेसी नेताओं व कार्यकर्ताओं और करणी सेना सदस्यों के बीच धक्का-मुक्की हुई। इसके पहले कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजेश भरावा व आईए थाना टीआई ब्रजेश श्रीवास्तव ने करणी सेना कार्यकर्ताओं को समझाने की कोशिश की लेकिन वे अड़े रहे।

करणी सेना की विंग सर्वसमाज की प्रदेश प्रमुख तृप्ति सिंह बोलीं सांसद आज तो मुंह छिपाकर पीछे की सीट पर बैठकर दूसरे रास्ते से निकल गए। वे वोट लेने तो हमारे पास ही आएंगे। तब हम उन्हें जवाब देंगे। सांसद भूरिया का कहना है उन्हें न तो करणी सेना दिखी और न काले झंडे। मैं तय रूट से ही आया। एससी-एसटी एक्ट आज का विषय नहीं है। इस पर अलग से बात करेंगे। लोकतंत्र में सभी अधिकार मांग सकते हैं।