रतलाम-नीमच रेल लाइन दोहरीकरण / मंदसौर में बनेंगे 4 प्लेटफाॅर्म, मुंबई-दिल्ली तक मिलेंगी सीधी एक्स. ट्रेनें

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 10:29 AM IST



मंदसौर स्टेशन पर 2 नंबर के बाद 1 और प्लेटफॉर्म बनेगा। मंदसौर स्टेशन पर 2 नंबर के बाद 1 और प्लेटफॉर्म बनेगा।
X
मंदसौर स्टेशन पर 2 नंबर के बाद 1 और प्लेटफॉर्म बनेगा।मंदसौर स्टेशन पर 2 नंबर के बाद 1 और प्लेटफॉर्म बनेगा।
  • comment

  • काम में तेजी बिजली पोल लगाने का काम जारी, शिवना नदी पर बनेगा नया ब्रिज
  •  प्लेटफाॅर्म दो के पीछे बनी कॉलोनी को खाली कराया

मंदसौर. रेलवे द्वारा नीमच से चित्तौड़गढ तक दोहरीकरण जारी है। इसके बाद रतलाम से नीमच तक दोहरीकरण होना है। अभी विद्युतीकरण तेजी से चल रहा है। इसमें मंदसौर स्टेशन का भी विकास होगा। यहां दो नए प्लेटफाॅर्म तैयार होंगे व शिवना पर डबल लाइन का नया ब्रिज बनेगा। इसके लिए रेलवे ने प्लान व प्रोजेक्ट तैयार कर प्लेटफाॅर्म दो के पीछे बनी रेलवे कॉलोनी को भी खाली कराया है। इसके बाद मंदसौर से सीधे दिल्ली-मुंबई व देश के अन्य शहरों के लिए एक्सप्रेस ट्रेनाें की सुविधा मिलेगी।

 

रेलवे द्वारा मंदसौर व आसपास के क्षेत्र को मुख्य रेल लाइन से जोड़ने के लिए सालों से प्रयास किए जा रहे हैं। नीमच से चित्तौड़गढ़ तक दोहरीकरण अंतिम चरण में है। दूसरे चरण में रतलाम से नीमच तक दोहरीकरण शुरू हो गया है। पहले फेज में रेलवे द्वारा विद्युतीकरण के लिए पोल लगाए जा रहे हैं। ये रतलाम से होकर मंदसौर शिवना की पुलिया तक लग गए हैं।

 

रेलवे द्वारा अागे-आगे गड्‌ढे करने वाले टीम चलाई जा रही, इसके बाद पोल लगाने वाली टीम चल रही है। इसके साथ ही लाइन डालने का काम भी किया जा रहा है। मार्च 2019 तक विद्युतीकरण पूरा करने का दावा है। दोहरीकरण में मंदसौर स्टेशन का भी विकास होना है। रेलवे ने यहां दो नए प्लेटफाॅर्म बनाने का प्राेजेक्ट तैयार किया है।

 

वर्तमान दो नंबर प्लेटफाॅर्म के बाद नीलकंठ महादेव मंदिर मार्ग पर रेलवे पटरी बिछाई जाएगी। इसके बाद बनी रेलवे कॉलोनी पर नया प्लेटफाॅर्म तैयार किया जाएगा। इससे प्लेटफाॅर्म नंबर 2 के दूसरी तरफ 3 नंबर व रेलवे कॉलोनी में 4 नंबर प्लेटफॉर्म तैयार होगा।

 

रेल्वे स्टेशन पर 4 प्लेटफार्म के साथ 5 ट्रैक होंगे। इसके लिए रेलवे ने यहां बनी कॉलोनी को खाली भी करा लिया है। सूत्रों के अनुसार नीमच चित्तौड़गढ़ दोहरीकरण खत्म होते ही रतलाम-नीमच का काम शुरू हो जाएगा। तब तक विद्युतीकरण का काम भी पूरा कर लिया जाएगा।

 

नए ब्रिज से डबल लाइन गुजरेगी : दोहरीकरण प्राेजेक्ट में शिवना नदी पर नया ब्रिज भी प्रस्तावित किया है। यह वर्तमान ब्रिज के समकक्ष लेकिन करीब 200 मीटर की दूरी पर बनेगा। इस ब्रिज पर से डबल लाइन गुजरेगी व वर्तमान ब्रिज से सिंगल लाइन रहेगी। शिवना से एक समय में तीन ट्रेन गुजर सकेंगी।


अभी सीधी एक्सप्रेस ट्रेनें कम हैं : अभी रतलाम से नीमच तक विद्युतीकरण व दोहरीकरण नहीं होने से मंदसौर से दिल्ली, मुंबई तक सीधे ट्रेनें एक-दो ही हैं। नीमच व इधर रतलाम से दिन में 30 से 40 ट्रेनें रोज लंबी दूरी की चलती हैं। दोहरीकरण के बाद इन ट्रेनों को मंदसौर तक बढ़ाया जा सकेगा जिससे मंदसौर से देश के हर कौने के लिए ट्रेन सुविधा मिल सकेगी। इससे मंदसौर के औद्योगिक क्षेत्र को भी बढ़ावा मिलेगा। व्यवसायियों को ट्रेन से ट्रांसपोर्ट की सुविधा मिलेगी।

 

रतलाम से नीमच विद्युतीकरण का काम तेजी से चल रहा है। इस कार्य को मार्च अंत तक पूरा करना है। इसके साथ दोहरीकरण का काम भी शुरू किया जाएगा। इसके लिए इंजीनियरों ने तैयारी कर ली है। 3 से 4 माह में ही काम शुरू करने की तैयारी है।

जे.के. जयंत, पीआरओ, रेलवे रतलाम

 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन