लुटेरी दुल्हन / 1.25 लाख रुपए लेकर दलालों ने करवाई सोहन की शादी, तीसरे ही दिन भागी दुल्हन



robber bride escaped with 1 lakh 25 thousand rupees
X
robber bride escaped with 1 lakh 25 thousand rupees

  • जिले में गिरोह सक्रिय, सादलपुर थानाक्षेत्र के गांव खैरोद में सामने आया लुटेरी दुल्हन का मामला 
     

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 10:55 AM IST

धार-खैरोद. जिले में एक बार फिर लुटेरी दुल्हन का मामला सामने आया है। इस बार दलालों ने 1 लाख 25 हजार रु. लेकर खैरोद के ही एक युवक की शादी करा दी। शादी के तीसरे ही दिन दुल्हन भतीजी के बीमार होने का बहाना कर पति को रास्ते में छोड़कर भाग गई। अब पीड़ित न्याय के लिए भटक रहा है। पीड़ित का आरोप है कि पुलिस ने इस मामले में सुनवाई नहीं की। पीड़ित सोहन पिता भंवरलाल दांगी निवासी खैरोद थाना सादलपुर ने आरोप लगाया कि पुलिस को जानकारी देने के बाद भी मेरी सुनवाई नहीं की जा रही है। मैंने गुमशुदगी दर्ज करवाई थी, लेकिन अब तक पत्नी को भी कोई पता नहीं चल पाया है। पीड़ित ने कहा कि न्याय के लिए अब मैं एसपी से मिलकर जांच की मांग करूंगा। 

 

पीड़ित सोहन के छोटे भाई नरेंद्र दांगी ने बताया गरीबी के चलते समाज में भाई को कोई लड़की नहीं मिल रही थी। इसी बीच गांव के ही राजू पिता रणछोड़ ने अपने बुआ के लड़के की शादी में कसरावदा में करवाई थी। जिससे संपर्क बना और वही हमें लड़की दिखाने खरगोन जिले के पानवा ले गया। जहां दलाल साक्षी नाम की युवती ने लड़की पूजा पटेल (24) को दिखाया। जिस पर दलाल साक्षी ने 1.25 लाख रु. में शादी करना तय किया। इसके बाद 27 जून घर देखने गए थे। राशि देकर बात पक्की होने पर 28 जून को महेश्वर कोर्ट में शादी कर ली। घर आए ही थे कि तीसरे दिन पूजा ने बताया कि मेेरे भाई की लड़की बीमार है। अस्पताल में भर्ती होने से मिलने जाना पड़ेगा। भाई सोहन को लेकर वह बस से पानवा के लिए रवाना हुई।

 

खलघाट में नाश्ता करने रुकी, वहीं से भागी 
खलघाट में बस रुकने पर पति-पत्नी एक होटल पर नाश्ता करने के लिए रुके थे। जहां पति नाश्ता कर ही रहा था कि पत्नी बिना कुछ बोले बाहर निकली और गायब हो गई। काफी देर तक नहीं लौटने पर जब वह होटल के बाहर भी नजर नहीं आई तो पूजा के मोबाइल पर फोन लगाया लेकिन वह बंद बता रहा था। पति वहां से घर लौटा। परिजनों को बताया, उन्होंने दलाल साक्षी को भी फोन लगाया लेकिन उसने अब तक कोई चर्चा पीड़ितों से नहीं की। इसके बाद सोहन ने 7 जुलाई को सादलपुर थाने में जाकर उसकी गुमशुदगी दर्ज कराई। पीड़ित के अनुसार पुलिस ने अब तक कोई मदद नहीं की है। 

 

परिवार मजदूरी करता है, ब्याज पर लेकर आए थे राशि
पीड़ित के अनुसार परिवार की तीन बीघा जमीन है, जो सूखी है। मजदूरी कर घर चलाते हैं। शादी के लिए लड़की मिलने पर परिवार ने गांव के ही एक युवक से तीन प्रतिशत के ब्याज से 1.50 लाख रु. लिए थे। इसमें से 1.25 लाख दलाल को दिए और 25 हजार रु. शादी के नाम पर खर्च किए। 

 

हाथ पर लिखा था महेश सपना, आधार कार्ड पर पूजा 
पीड़ित के भाई नरेंद्र ने बताया लुटेरी दुल्हन के सीधे हाथ पर महेश सपना लिखा हुआ था। जबकि उसके आधार कार्ड पर पूजा पटेल लिखा हुआ था। दलालों ने इस बारे में कोई भी जानकारी परिवार वालों को नहीं दी थी। परिवार वालों को लड़की मिली तो उन्होंने भी किसी से कोई जानकारी नहीं ली।
 
अनपढ़ होने से नहीं समझ सके, बालिका ने बताई बात 
नरेंद्र ने कहा कि पूजा के संबंध में हम लोगों ने कोई जानकारी नहीं निकाली थी। बड़े पापा की बालिका ने पूजा के हाथ पर नाम लिखा हुआ देखा। जिसमें महेश सपना लिखा हुआ था। आधार कार्ड में देखा तो नाम पूजा लिखा हुआ था। तब हमें शंका हुई कि हमारे साथ धोखा हुआ है। 


जिले में यहां हो चुकी है इस तरह की घटनाएं 

खिलेड़ी में भी इस तरह लुटेरी दुल्हन ने 1.22 लाख रु. लेकर शादी की थी। जो शादी के दूसरे ही मायके में मौत का बहाना कर भाग गई थी। 
सरदारपुर के गावं उंडेली में भी 90 हजार रु. में दलालों ने करवाई थी शादी। शौच का बहाना कर रात में ही भाग गई थी दुल्हन। जिसका अब तक कोई पता नहीं चला। 

 

युवक के साथ जो घटना हुई वह खलघाट थानाक्षेत्र में हुई है। हम डायरी खलघाट भेज रहे हैं।

 

पवन सिंघल, टीआई सादलपुर 

 

COMMENT