मंदसौर / युवक की हत्या करने वाले पति-पत्नी को आजीवन कारावास की की सजा

The husband and wife who killed the young man sentenced to life imprisonment
X
The husband and wife who killed the young man sentenced to life imprisonment

  • फरवरी 2016 में वारदात को दिया था अंजाम, युवक की हत्या कर लाश को झाड़ियों में फेंक दिया था
  • दोषी पति बाेला : पत्नी पर बुरी नजर रखता था मृतक युवक इसलिए मार डाला

दैनिक भास्कर

Feb 13, 2020, 11:27 AM IST

मंदसौर. फरवरी 2016 में पति-पत्नी द्वारा एक युवक की हत्या कर लाश झाड़ियों में फेंक दी थी। मामले में पुलिस ने पति-पत्नी को आरोपी बताने हुए कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी। मामले में तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश रूपेशकुमार गुप्ता ने आरोपी पति-पत्नी को आजीवन कारावास सहित 10 हजार रुपए जुर्माने से दंडित किया है। एक अन्य धारा में 2 वर्ष कारावास एवं 1 हजार रुपए का जुर्माना लगाया।


अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी नितेश कृष्णन ने बताया कि गांव कलालिया, रतलाम निवासी सुभाष पाटी ने थाना रिंगनोद में शिकायत दर्ज कराई थी। सुभाष ने शिकायत में बताया कि उसका चचेरा भाई हरीशचंद्र ढोढर का रहने वाला है। वहां एक मेडिकल स्टोर पर काम करता है। वह रोज सुबह 10 बजे चंद्रावत मेडिकल जाकर शाम 6 बजे तक वापस आता है। 5 फरवरी 2016 को हरीशचंद्र रात 8 बजे तक नहीं लौटा। तब सुभाष ने ढोढर जाकर मेडिकल संचालक महेंद्र चंद्रावत से पूछा तो उसने बताया कि रुक्मिणीबाई नाम की एक महिला उसके पति लक्ष्मीनारायण के साथ शाम काे आई थी। हरीशचंद्र को बाइक से गांव लदूसा छोड़ने का कहा था। इस पर हरीशंचद्र अपनी बाइक पर दोनों को बैठाकर गांव छोड़ने गया है लेकिन वापस नहीं आया है। 


इस पर सुभाष रुक्मिणीबाई व उसके पति लक्ष्मीनारायण को ढूंढने लदूसा गया। पता चला कि रुक्मिणीबाई का ससुराल गांव कोलवा, नाहरगढ़ का है। हरीशचंद्र के साथ कोई घटना होने की शंका पर वह कोलवा गया। जहां पर रुक्मिणीबाई घर नहीं मिली। खेत पर पहुंचा तो वहां पर रुक्मिणीबाई पति लक्ष्मीनारायण के साथ मिली। हरीशचंद्र के बारे पूछा तो लक्ष्मीनारायण ने बताया कि तेरा भाई मेरी पत्नी पर बुरी नजर रखता है। हम दोनों ने मिलकर उसे को निपटा दिया है। उसकी लाश को मदनपुरी गोस्वामी के बाबरेचा रोड पर बने खेत की झाड़ियों में फेंक दिया है।


खून से लथपथ शव मिला था, चाकू व बाइक की बरामद
सुभाष ने सूचना परिजन और अफजलपुर पुलिस थाने को दी। पुलिस मदनपुरी के बाबरेचा रोड पर बने खेत पर पहुंची। जहां झाड़यों से हरीशचंद्र की खून से लथपथ लाश मिली। हत्या में उपयोग किया चाकू व बाइक को बरामद किया। शिकायत पर अफजलपुर पुलिस ने आरोपी लक्ष्मीनारायण मीणा (35) व रुक्मिणीबाई निवासी कोलवा के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किया। पुलिस ने न्यायालय में अभियोग पत्र पेश किया। जिस पर तृतीय अपर सत्र न्यायाधीश रूपेशकुमार गुप्ता ने दोनों पति-पत्नी को हत्या करने का आरोपी मानते हुए दंडित किया। अभियोजन की ओर से उप संचालक बापूसिंह ठाकुर नेे पैरवी की। प्रकरण में एडीपीओ नितेश कृष्णन का सहयोग रहा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना