चित्तौड़गढ़-शंभूपुरा डबल ट्रैक पर मई में दौड़ेगी ट्रेन

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • चित्तौड़गढ़-रतलाम सेक्शन का जीएम ने किया दौरा 

रतलाम. ब्रॉडगेज दोहरीकरण पर जोर देते हुए पश्चिम रेलवे महाप्रबंधक एके गुप्ता ने रतलाम-चित्तौडगढ़ सेक्शन में चल रहे सारे कामों को समय सीमा में पूरा को कहा है। दोपहर जीएम तीन कोच वाले स्पेशल इंस्पेक्शन यान से प्लेटफार्म 7 से रवाना हुए। ट्रैक का निरीक्षण करते हुए चित्तौडगढ पहुंचे।

 

चित्तौडगढ-शंभूपुरा तक के डबलिंग और इलेक्ट्रिफिकेशन कार्य का अपडेट लिया। सेक्शन का इलेक्ट्रिफिकेशन हो चुका है, डबलिंग कार्य अंतिम चरण में हैं। मई तक रेलवे ट्रेन चलाना शुरू कर देगा।

वेरे मजदूर संघ के युवा सम्मेलन में शामिल होने आए महाप्रबंधक ने रतलाम-नीमच विद्युतीकरण को मई 2019 तक पूरा करने के निर्देश दिए। चित्तौडगढ से लौटते हुए महाप्रबंधक ने नीमच, मंदसौर, जावरा स्टेशन और वहां चल रहे कार्यों को देखा। डीआरएम आरएन सुनकर सहित अन्य अधिकारी साथ रहे। देर शाम लौटने के बाद वे जयपुर-मुंबई सेंट्रल एक्सप्रेस से हेडक्वार्टर के लिए रवाना हो गए। 


स्टॉलों के लाइसेंस चैक किए : महाप्रबंधक ने रतलाम स्टेशन के प्लेटफॉर्म 4 पर स्थित जनता आहार और एफओबी के नीचे वाली पांच खानपान स्टॉलों का निरीक्षण किया। उन्होंने स्टॉल संचालकों से चर्चाकर अनुमति के अनुसार बेची जा रही खाद्य सामग्री की ब्रांड, साथ ही स्टाॅलों के लाइसेंस चैक किए।