सागर

--Advertisement--

यज्ञ के अंतिम दिन उमड़ी भीड़, भंडारा आज

मुस्लिम भाइयों ने ढोल नगाड़ों के साथ किया धर्मगुरूओं का सम्मान भास्कर संवाददाता| तेंदूखेड़ा/तेजगढ़ तेजगढ़ में...

Danik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:55 AM IST
मुस्लिम भाइयों ने ढोल नगाड़ों के साथ किया धर्मगुरूओं का सम्मान

भास्कर संवाददाता| तेंदूखेड़ा/तेजगढ़

तेजगढ़ में विगत 9 दिनों से छोटे सरकार फतेहपुर के निर्देशन में रामचरित मानस यज्ञ का आयोजन किया जा रहा है।

जिसमें झांसी से पधारे संत महावीर ने रामचरितमानस के व्याख्यान के दौरान कहा कि रामराज्य कैसे आएगा, रामराज जातिवाद, क्षेत्रवाद, संप्रदायवाद से नहीं आएगा बल्कि रामराज संतो के आर्शीवाद से आएगा। उन्होंने कहा कि संत, सत्य व धर्म की स्थापना करने के लिए परमात्मा भगवान अवतार होता है। समापन पर सांप्रदायिक एकता की मिसाल देखने को मिली। राजा तेजीसिंह की नगरी में किसी भी धर्म का कार्यक्रम हो यहां के लोग मिल-जुलकर धूमधाम से कार्यक्रम को मनाते हैं और एक दूसरे के कार्यक्रमों में जाकर स्वागत करते हैं। देश को सांप्रदायिक एकता का संदेश देते हैं। छोटे सरकार के निर्देशन में प्राचीन गणेश मंदिर में अंतिम दिन विश्व कल्याणार्थ, गणेश यज्ञ के समापन के अवसर पर समस्त मुस्लिम समाज के लोगों ने पंडित अशोक प्यासी और समस्त धर्मगुरूओं का ढोल नगाों के साथ उपहार भेंटकर सम्मानित किया। अशोक प्यासी ने देश के लिए अमन और भाईचारे के साथ रहने का संदेश दिया और कहा किसी भी धर्म में सांप्रदायिकता के लिए कोई जगह नहीं है। हिंदू मुस्लिम समुदाय की यह कौमी एकता लोगों के लिए मिसाल बनी हुई है। यज्ञ में जबेरा विधायक प्रतापसिंह ने पहुंचकर संतों का आर्शीर्वाद लिया। कार्यक्रम में शौकत खंा, फरमान खान, शप्पी खां, सदर, बबलू खां, मुबारिक, हनीफ, आशु पठान, गुग्गा पठान, गौरी शोए पठान, हलीम मौजूद थे। आज भंडारे का आयोजन किया जाएगा।

Click to listen..