सागर

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • बिजली प्रभावित क्षेत्रों में सोलर पंप किसानों के लिए वरदान, 85 फीसदी मिल रही सब्सिडी पंप के सोलर पैनल के साथ
--Advertisement--

बिजली प्रभावित क्षेत्रों में सोलर पंप किसानों के लिए वरदान, 85 फीसदी मिल रही सब्सिडी पंप के सोलर पैनल के साथ

अब किसानों को खेत सींचने के लिए पंप चलाने के लिए एक से डेढ़ किमी लंबी बिजली लाइन नहीं डालना पड़ रही है। अक्षय ऊर्जा...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
अब किसानों को खेत सींचने के लिए पंप चलाने के लिए एक से डेढ़ किमी लंबी बिजली लाइन नहीं डालना पड़ रही है। अक्षय ऊर्जा विभाग किसानों को सोलर एनर्जी से चलने वाला मोटर पंप उपलब्ध करा रहा है। यह 85 फीसदी सब्सिडी पर दिया जा रहा है।

मप्र ऊर्जा विभाग निगम को जिले के जतारा, पलेरा, निवाड़ी, बड़ागांव, ओरछा, बल्देवगढ़ और टीकमगढ़ विकासखंड से किसानों ने आवेदन किए थे। जिसके बाद से किसानों को रबी फसल की सिंचाई के लिए पंप उपलब्ध कराए जा रहे हैं। बिजली समस्या वाले किसान पांच हॉर्स पॉवर के सोलर पंप का उपयोग कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के तहत किसानों को 85 फीसदी राशि सब्सिडी के रूप में दी जाएगी। इससे किसानों को 68 हजार रुपए में सिंचाई सोलर पंप उपलब्ध होगा। पांच हॉर्स पॉवर के पंप पर पांच साल की वारंटी भी रहेगी। इसमें रिमोट मॉनिटरिंग सिस्टम भी लगा है। इसमें एक चिप लगी है जिससे पंप खराब होते ही कंपनी को पता चल जाएगा। हालांकि हर तीन महीने में रुटीन परीक्षण भी किया जाएगा। किसानों के पास कंपनी का प्रतिनिधि भी आता रहेगा। किसानों को दिए जाने वाले सोलर पैनल से 20 यूनिट तक बिजली उत्पादन होगा। इससे फसलों की सिंचाई, खेत और घर की बिजली की व्यवस्था हो सकेगी। किसानों को डेढ़ किमी लंबी बिजली लाइन नहीं डालना पड़ेगी, रिमोट मॉनिटरिंग सिस्टम से सोलर पैनल को संचालित किया जा सकेगा।

याेजना में किसान को पंप, पाइप, स्टैंड, कंट्रोल सिस्टम, पैनल दिया जाएगा। 85 फीसदी सब्सिडी वाली योजना खासकर उन किसानों के लिए लागू की गई है जनके खेत बिजली आपूर्ति केंद्र से काफी दूर हैं। खासकर एक से डेढ़ किमी दूर स्थित खेतों वाले किसानों को लाभ होगा। अक्षय ऊर्जा विभाग के माध्यम से पहले भी कई सरकारी विभागों में सोलर सिस्टम लगाया जा चुका है। इसमें पीजी कॉलेज, जिला अस्पताल समेत अन्य विभाग भी शामिल हैं। पांच हॉर्स पॉवर का यह सोलर पंप 85 फीसदी सब्सिडी पर मिलेगा।

मुख्यमंत्री सोलर पंप

बिजली समस्या वाले किसान पांच हॉर्स पॉवर के सोलर पंप का उपयोग कर सकते हैं

छोटे किसानों के लिए सुविधाजनक है योजना

जिनके पास लगभग 10 बीघा जमीन है उनके लिए योजना कारगर है। जिले के किसानों ने इस योजना में रूचि दिखाई है। किसानों को सोलर पंप उपलब्ध कराए जा रहे हैं। जिन क्षेत्रों में बिजली की समस्या है वहां के किसानों के लिए सोलर पंप कारगर सिद्ध होंगे। एक सोलर पैनल से 20 यूनिट तक बिजली उत्पादन किया जा सकेगा। सोलर पंप की 5 साल की वारंटी भी रहेगी।

X
Click to listen..