Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» 11 साल पहले बस स्टैंड के लिए स्वीकृत जमीन पर अब तक शुरू नहीं हो पाया निर्माण कार्य

11 साल पहले बस स्टैंड के लिए स्वीकृत जमीन पर अब तक शुरू नहीं हो पाया निर्माण कार्य

भास्कर संवाददाता | बड़ागांव धसान 20 हजार की आबादी वाले बड़ागांव धसान में बस स्टैंड नहीं है। इस कारण सालों से सड़क...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 02, 2018, 03:35 AM IST

11 साल पहले बस स्टैंड के लिए स्वीकृत जमीन पर अब तक शुरू नहीं हो पाया निर्माण कार्य
भास्कर संवाददाता | बड़ागांव धसान

20 हजार की आबादी वाले बड़ागांव धसान में बस स्टैंड नहीं है। इस कारण सालों से सड़क किनारे बस स्टैंड चल रहा है। जिस जगह बस स्टैंड संचालित हो रहा है, वह पुलिस विभाग की जमीन है। बस स्टैंड बनाने के लिए नगर पंचायत को 11 साल पहले कृषि उपज मंडी के सामने जमीन आवंटित की गई थी। बावजूद इसके अब तक काम शुरु नहीं हो पाया है। स्थानीय लोगों के अनुसार प्रशासनिक अधिकारियों मनमाने रवैये के चलते हर बार काम शुरू नहीं हो पा रहा है। इस संबंध में कई बार स्थानीय लोग नगरीय प्रशासन को आवेदन दे चुके हैं, लेकिन स्थिति जस की तस है। करीब दो करोड़ की लागत से बनने वाले इस बस स्टैंड के लिए पिछले साल टेंडर भी बुलाए गए थे, लेकिन रेट अधिक होने के कारण उन्हें निरस्त कर दिया। तब से अब तक नगरीय प्रशासन दूसरी बार टेंडर नहीं बुला पाया है।

प्रभारी सीएमओ एमए सिद्धकी का कहना है कि पहले जो भी अधिकारी आए। उन्होंने इस ओर कभी ध्यान नहीं। अभी बड़ागांव धसान का चार्ज दिया गया है। जल्दी ही बस स्टैंड बनवाने के लिए कार्ययोजना बनाई जाएगी। बुधवार को इस संबंध में इंजीनियरों के साथ बैठक हुई थी।

11 साल पहले हो चुकी है जमीन आवंटित : 11 साल पहले जमीन का आवंटन कृषि उपज मंडी के सामने हो गया था। करीब 4 एकड़ से ज्यादा में बस स्टैंड बनाया जाएगा। पहाड़ी एरिया होने के कारण काम कठिन है। इसलिए काम में विलंब हो रहा है।

बस स्टैंड की डिजाइन तैयार

बस स्टैंड का प्रोजेक्ट डिजाइन हाेने के लिए सागर के शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज भेजा गया है। सीएमओ ने बताया कि 2 करोड़ का डीपीआर तैयार किया गया है। एक सप्ताह पहले केस डिजाइन होने के लिए सागर इंजीनियरिंग कॉलेज भेज दिया था। जैसे ही बस स्टैंड का डिजाइन बनकर आएगा, तुरंत ही टेंडर की प्रक्रिया शुरू करेंगे।

डीआईजी ने सीएमओ काे लगाई थी फटकार : करीब डेढ़ साल पहले थाना के औचक निरीक्षण पर आए डीआईजी ने तत्कालीन सीएमओ को बुलाकर फटकार लगाई थी। उन्होंने पुलिस कैम्पस में खड़ी होने बसों को हटाने व अवैध रूप से रखी दुकानों को भी हटाने के निर्देश दिए थे। जल्दी ही बस स्टैंड का शुरू किया जाएगा।

बड़ागांव धसान। बस स्टैंड बनाने के लिए चिंहित हुई यह जगह।

नगर का विकास जरूरी लोगों को 11 साल से इंतजार

नगर के अजित कुमार जैन व दयाल साहू ने बताया कि पिछले 11 साल पहले बड़ागांव धसान में बस स्टैंड बनाने के लिए जगह स्वीकृत की गई थी, लेकिन अब तक नाम मात्र का काम भी नहीं हुआ है। वहीं शीलचंद रैकवार का कहना है कि बस स्टैंड बनने से यात्रियों को भी कई सुविधाएं मिलेगी। यहां से बल्देवगढ़, सागर, खरगापुर, जतारा सहित स्थानों के लिए यात्री सफर करते हैं। बस स्टैंड न होने के कारण यात्रियों को लगातार परेशानी होती है।

टेंडर प्रक्रिया होने के बाद जल्दी होगा काम शुरू

बड़ागांव धसान बस स्टैंड के लिए जमीन स्वीकृत हो चुकी है। प्रशासनिक स्तर पर सभी तैयारियां करा ली गई है। बस टेंडर बुलाए जाना है। पिछले बार कुछ कारणों से बुलाए गए टेंडर की प्रक्रिया को निरस्त करना पड़ा था। अब जल्दी टेंडर बुलाकर काम शुरू किया जाएगा। -रामचरण कसगर, अध्यक्ष, नगर पंचायत

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Madhya Pradesh News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 11 साल पहले बस स्टैंड के लिए स्वीकृत जमीन पर अब तक शुरू नहीं हो पाया निर्माण कार्य
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×