• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • जनपद सीईओ, पूर्व सीईओ व पूर्व सरपंच सहित 13 लोगों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर
--Advertisement--

जनपद सीईओ, पूर्व सीईओ व पूर्व सरपंच सहित 13 लोगों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर

न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनाया फैसला, मध्याह्न भोजन में गड़बड़ी करने का पाया दोषी तत्कालीन तहसीलदार ने 90 क्विंटल...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:00 AM IST
जनपद सीईओ, पूर्व सीईओ व पूर्व सरपंच सहित 13 लोगों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर
न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सुनाया फैसला, मध्याह्न भोजन में गड़बड़ी करने का पाया दोषी

तत्कालीन तहसीलदार ने 90 क्विंटल 33 किलो 500 ग्राम चावल के गबन का दोषी पाया

भास्कर संवाददाता | नौगांव

नौगांव के न्यायिक मजिस्ट्रेट महेश लचौरिया ने मध्याह्न भोजन के गबन के मामले में नौगांव जनपद सीईओ सैय्यद मजहर अली, तत्कालीन सीईओ सुधीर जैन , सुजीत वर्मा, तत्कालीन सरपंच , पंचायत कर्मी राम राजा सहित 13 लोगों पर गबन करने, शासकीय आदेश का पालन न करने, चल संपत्ति का बेईमानी पूर्वक अपने लिए उपयोग करने, चोरी का माल खरीदने सहित विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज करने का आदेश जारी किया है।

एडवोकेट एसएस तोमर ने बताया कि जनपद पंचायत क्षेत्र के काकनपुरा के उस समय के सरपंच बलराम , तत्कालीन पंचायतकर्मी राम राजा के द्वारा मध्याह्न भोजन का चावल वितरण न करते हुए उदय भान यादव, ठाकुरदास, प्रभु , राजबहादुर, देवेंद्र को बेच दिया गया था। जिसकी शिकायत काकनपुरा निवासी रामकिशन उर्फ किस्सू यादव ने एसडीएम से की थी। एसडीएम ने तहसीलदार से जांच कराई , तहसीलदार ने 26 मार्च 2007 को मामले की जांच करते हुए जांच प्रतिवेदन सौंपा, जिसमें तत्कालीन तहसीलदार ने 90 क्विंटल 33 किलो 500 ग्राम चावल के गबन का दोषी पाया।

तहसीलदार ने गबन के मामले में सरपंच बलराम , तत्कालीन पंचायतकर्मी राम राजा को दोषी पाते हुए कार्रवाई करने के लिए एसडीएम के माध्यम से जिला कलेक्टर को पत्र लिखा। कलेक्टर ने आरोपी गणों पर कार्रवाई करने और आपराधिक मुकदमा दर्ज करने के लिए तत्कालीन सीईओ सुधीर जैन को पत्र लिखा, लेकिन उन्होंने आरोपियों पर कोई कार्रवाई नहीं की और न ही आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया। जिसके बाद शिकायतकर्ता ने मामले की फिर से शिकायत की तो जिला कलेक्टर ने इस संबंध में कई बार पत्र जारी किए लेकिन सीईओ के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई और न ही कोई आपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया।

इन पर की जाएगी कार्रवाई

आरटीआई कार्यकर्ता ने मामले को कोर्ट मेमन प्रस्तुत किया, जिसमें द्वितीय व्यवहार न्यायधीश वर्ग एक महेश लचौरिया ने मामले की सुनवाई करते हुए धारा 156- (3) के अंतर्गत अभियुक्त बलराम, रामराजा, सुधीर जैन, नौगांव जनपद सीईओ मजहर अली खान, बिहारी लाल अहिरवार, सुजीत वर्मा, राजेंद्र नामदेव, रोशन यादव, उदय भान यादव, ठाकुर दास कुशवाहा, प्रभु अहिरवार, राजबहादुर यादव, देवेंद्र यादव के विरुद्ध धारा 166, 166ए, 403,409, 411 के तहत प्रथम सूचना रिपोर्ट पंजीबद्ध किए जाने के आदेश दिए हैं।

X
जनपद सीईओ, पूर्व सीईओ व पूर्व सरपंच सहित 13 लोगों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..