• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है : जैन

दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है : जैन / दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है : जैन

Sagar News - डाॅ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय के यूजीसी-मानव संसाधन विकास केंद्र में चल रहे 99वें अंतरानुशासनिक पुनश्चर्या...

Bhaskar News Network

Dec 30, 2015, 04:06 AM IST
दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है : जैन
डाॅ. हरीसिंह गौर विश्वविद्यालय के यूजीसी-मानव संसाधन विकास केंद्र में चल रहे 99वें अंतरानुशासनिक पुनश्चर्या पाठ्यक्रम में अधिवक्ता अरविंद जैन ने कहा कि भारतीय कानून अभी भी पितृ सत्तात्मक बंधनों में कैद है। जैन ‘औरत होने की सजा’ और ‘उत्तराधिकार बनाम पुत्राधिकार’ जैसी चर्चित पुस्तकों के लेखक हैं। उन्होंने कहा कि डाॅ. हरीसिंह गौर पहले व्यक्ति थे जिन्होंने महिलाओं को वकालत करने का अधिकार दिलाने में अपना योगदान दिया। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र संघ की रिपोर्ट के अनुसार आज भी दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है। पूंजी पर पुरुषों का वर्चस्व ही स्त्रियों की स्थिति के लिए जिम्मेदार है। स्त्री देह और पूंजी पर पुरुष वर्चस्व स्त्री को समानता के अधिकार से वंचित रखते हैं। जैन ने स्त्री से जुड़े कई कानूनों पर चर्चा करते हुए कानूनों के ‘लूप होल’ की व्याख्या की जिससे स्त्री अधिकार और स्त्री हिंसा से संबंधित मामलों में अपराधी को छूट मिल जाती है और स्त्री को न्याय नहीं मिलता।

उन्होंने दहेज हत्या अधिनियम, घरेलू हिंसा अधिनियम, बाल-विवाह अधिनियम, बाल-अपराध से जुड़े कानून आदि पर विस्तारपूर्वक चर्चा की। कानूनों में पुरुष और स्त्री भेद किस तरह विद्यमान है, के प्रश्न को भी तमाम मामलों का उदाहरण देते हुए स्पष्ट किया। अंत में उन्होंने प्रतिभागियों के सवालों का समाधान किया। संचालन डाॅ. संजय शर्मा ने किया। आभार डाॅ. विवेक जायसवाल ने माना।

X
दुनिया की 96 प्रतिशत पूंजी पर पुरुषों का कब्जा है : जैन
COMMENT