• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • शहर में कहीं बालरूप तो कहीं विशाल रूप हनुमान की पूजा हुई सभी स्वरूपों को देखने भीड़ उमड़ी, शाम को निकले चल समारोह
--Advertisement--

शहर में कहीं बालरूप तो कहीं विशाल रूप हनुमान की पूजा हुई सभी स्वरूपों को देखने भीड़ उमड़ी, शाम को निकले चल समारोह

हनुमान जन्मोत्सव पर शनिवार को शहर में मंशापूरन बालाजी, हनुमान मंदिर परेड, राम दरबार, संकट मोचन मंदिर, सिद्धेश्वर...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 05:05 AM IST
शहर में कहीं बालरूप तो कहीं विशाल रूप हनुमान की पूजा हुई सभी स्वरूपों को देखने भीड़ उमड़ी, शाम को निकले चल समारोह
हनुमान जन्मोत्सव पर शनिवार को शहर में मंशापूरन बालाजी, हनुमान मंदिर परेड, राम दरबार, संकट मोचन मंदिर, सिद्धेश्वर मंदिर, गढ़पहरा हनुमान मंदिर, कठवा पुल मंदिर, दादा दरबार, पहलवान बब्बा, दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर सहित कई मंदिरों में अंजनि पुत्र हनुमान का श्रृंगार, महाआरती हुई।शाम को सदर से धर्मरक्षा संगठन द्वारा विशाल चल समारोह निकाला गया। बड़ा बाजार से भी जुलूस निकला।

बड़ा बाजार में चमेली चौक के पास सीआर माडल स्कूल स्थित देव डूठावली हनुमान मंदिर मेें 7 किलो चांदी की भव्य पोषाक से हनुमान जी का श्रृंगार, अभिषेक और पूजन संतोष सोनी मारूति ने किया गया। तीन लाख कीमत की पोषाक में मुकुट, मुगदर आदि शामिल थे। संकटमोचन, सिद्धेश्वर आदि मंदिरों से शाम को डीजे गाजे बाजे के साथ ध्वज चल समारोह में निकले। इनमें झाकियां शामिल थीं। चलसमारोह में भारी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। पहलवान बब्बा, दादा दरबार, लेहदरा हनुमान अंजनि मंदिर सहित सभी मंदिरों में देर शाम तक भक्तों का तांता लगा रहा, प्रसाद दिन भर बंटा। प्रवक्ता अनिल दुबे ने बताया सुबह 9 बजे जन्मआरती के बाद प्रसाद वितरण शुरू किया गया। रामायण की पूर्णाहुति और मुख्य आरती के बाद मंदिर परिसर में श्रद्धालु रुके रहे।

चल समारोह में पालकी में हनुमान की प्रतिमा, बैंड, डीजे, ध्वज के साथ भजन मंडली सुंदरकांड पाठ करते चल रही थी। संकट मोचन मंदिर से शाम को ध्वज चलसमारोह निकला। बालाजी समेत कई हनुमान मंदिरों में अनुष्ठान हुए। परकोटा के पास प्राचीन दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में शाम 7 बजे दीपों से महाआरती की गई। वहीं अपनी पांच मांगों को लेकर धरने पर बैठे डिप्लोमा इंजीनियर्स ने पंडाल में सामूहिक सुंदरकांड पाठ किया। इसमें अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह समेत कई डिप्लोमा इंजीनियर नारेबाजी से परे भक्ति में लीन रहे।

सिद्ध हनुमान मंदिर में सुबह बाबा का शृंगार किया गया, इसके पास अखंड रामायण पाठ शुरू हुआ। रात में महाआरती हुई। पहलवान बब्बा मंदिर में सुबह 6 बजे नित्य अभिषेक पूजन, अर्चन उपरांत 6.30 बजे प्रातःकालीन आरती हुई। गढ़पहरा हनुमान मंदिर पर केसरिया ध्वज चढ़ाया। भंडारा एवं सुंदरकांड का आयोजन हुआ मारुति यज्ञ अभिषेक-पूजन एवं महाआरती पश्चात शाम को भंडारा वहीं आर्ट्स कामर्स कालेज के बाजू वाले दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में भगवान का शृंगार कर चौला चढ़ाया गया, शाम को महाआरती व प्रसादी वितरित की गई । सिविल लाइन स्थित हनुमान मंदिर पर भगवान का शृंगार सहित कई धार्मिक आयोजन हुए। सुबह आरती, शाम को महाआरती हुई।। राजीव नगर वार्ड कुशवाहा समिति ऋारा राम जानकी मंदिर से विशाल वाहन रैली निकाली गई। इसमें मोहन कुशवाहा, अर्जुन पटेल वीरेंद्र पटेल राजाराम पटेल और गोविंद पटेल शामिल थे। राधा टॉकीज हनुमान मंदिर और आईजी बंगला पास स्थित हनुमान मंदिर में शाम को महाआरती हुई।

दादा दरबार मंदिर में लगा रहा भक्तों का तांता। मंदिर में चल रहे सवा करोड़ हनुमान चालीसा पाठ के संकल्प के पूर्ण हुए 30 लाख हनुमान चालीसा पाठ।

भास्कर संवाददाता | सागर

हनुमान जन्मोत्सव पर शनिवार को शहर में मंशापूरन बालाजी, हनुमान मंदिर परेड, राम दरबार, संकट मोचन मंदिर, सिद्धेश्वर मंदिर, गढ़पहरा हनुमान मंदिर, कठवा पुल मंदिर, दादा दरबार, पहलवान बब्बा, दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर सहित कई मंदिरों में अंजनि पुत्र हनुमान का श्रृंगार, महाआरती हुई।शाम को सदर से धर्मरक्षा संगठन द्वारा विशाल चल समारोह निकाला गया। बड़ा बाजार से भी जुलूस निकला।

बड़ा बाजार में चमेली चौक के पास सीआर माडल स्कूल स्थित देव डूठावली हनुमान मंदिर मेें 7 किलो चांदी की भव्य पोषाक से हनुमान जी का श्रृंगार, अभिषेक और पूजन संतोष सोनी मारूति ने किया गया। तीन लाख कीमत की पोषाक में मुकुट, मुगदर आदि शामिल थे। संकटमोचन, सिद्धेश्वर आदि मंदिरों से शाम को डीजे गाजे बाजे के साथ ध्वज चल समारोह में निकले। इनमें झाकियां शामिल थीं। चलसमारोह में भारी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। पहलवान बब्बा, दादा दरबार, लेहदरा हनुमान अंजनि मंदिर सहित सभी मंदिरों में देर शाम तक भक्तों का तांता लगा रहा, प्रसाद दिन भर बंटा। प्रवक्ता अनिल दुबे ने बताया सुबह 9 बजे जन्मआरती के बाद प्रसाद वितरण शुरू किया गया। रामायण की पूर्णाहुति और मुख्य आरती के बाद मंदिर परिसर में श्रद्धालु रुके रहे।

चल समारोह में पालकी में हनुमान की प्रतिमा, बैंड, डीजे, ध्वज के साथ भजन मंडली सुंदरकांड पाठ करते चल रही थी। संकट मोचन मंदिर से शाम को ध्वज चलसमारोह निकला। बालाजी समेत कई हनुमान मंदिरों में अनुष्ठान हुए। परकोटा के पास प्राचीन दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में शाम 7 बजे दीपों से महाआरती की गई। वहीं अपनी पांच मांगों को लेकर धरने पर बैठे डिप्लोमा इंजीनियर्स ने पंडाल में सामूहिक सुंदरकांड पाठ किया। इसमें अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह समेत कई डिप्लोमा इंजीनियर नारेबाजी से परे भक्ति में लीन रहे।

सिद्ध हनुमान मंदिर में सुबह बाबा का शृंगार किया गया, इसके पास अखंड रामायण पाठ शुरू हुआ। रात में महाआरती हुई। पहलवान बब्बा मंदिर में सुबह 6 बजे नित्य अभिषेक पूजन, अर्चन उपरांत 6.30 बजे प्रातःकालीन आरती हुई। गढ़पहरा हनुमान मंदिर पर केसरिया ध्वज चढ़ाया। भंडारा एवं सुंदरकांड का आयोजन हुआ मारुति यज्ञ अभिषेक-पूजन एवं महाआरती पश्चात शाम को भंडारा वहीं आर्ट्स कामर्स कालेज के बाजू वाले दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में भगवान का शृंगार कर चौला चढ़ाया गया, शाम को महाआरती व प्रसादी वितरित की गई । सिविल लाइन स्थित हनुमान मंदिर पर भगवान का शृंगार सहित कई धार्मिक आयोजन हुए। सुबह आरती, शाम को महाआरती हुई।। राजीव नगर वार्ड कुशवाहा समिति ऋारा राम जानकी मंदिर से विशाल वाहन रैली निकाली गई। इसमें मोहन कुशवाहा, अर्जुन पटेल वीरेंद्र पटेल राजाराम पटेल और गोविंद पटेल शामिल थे। राधा टॉकीज हनुमान मंदिर और आईजी बंगला पास स्थित हनुमान मंदिर में शाम को महाआरती हुई।

काकागंज स्थित प्राचीन हनुमान मंदिर में प्रजापति समाज ने हनुमान जयंती मनाई। 1000 दीपों से आरती की गई। गाजे-बाजे के साथ मंदिर में निशान लेकर लोग पहुंचे।

धर्म रक्षा संगठन द्वारा सदर से विशाल चल समारोह निकाला गया। इसमें शामिल सजीव झांकियां दर्शकों के आकर्षण का केंद्र रहीं। शोभायात्रा का शहर में जगह-जगह स्वागत किया गया।

भास्कर संवाददाता | सागर

हनुमान जन्मोत्सव पर शनिवार को शहर में मंशापूरन बालाजी, हनुमान मंदिर परेड, राम दरबार, संकट मोचन मंदिर, सिद्धेश्वर मंदिर, गढ़पहरा हनुमान मंदिर, कठवा पुल मंदिर, दादा दरबार, पहलवान बब्बा, दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर सहित कई मंदिरों में अंजनि पुत्र हनुमान का श्रृंगार, महाआरती हुई।शाम को सदर से धर्मरक्षा संगठन द्वारा विशाल चल समारोह निकाला गया। बड़ा बाजार से भी जुलूस निकला।

बड़ा बाजार में चमेली चौक के पास सीआर माडल स्कूल स्थित देव डूठावली हनुमान मंदिर मेें 7 किलो चांदी की भव्य पोषाक से हनुमान जी का श्रृंगार, अभिषेक और पूजन संतोष सोनी मारूति ने किया गया। तीन लाख कीमत की पोषाक में मुकुट, मुगदर आदि शामिल थे। संकटमोचन, सिद्धेश्वर आदि मंदिरों से शाम को डीजे गाजे बाजे के साथ ध्वज चल समारोह में निकले। इनमें झाकियां शामिल थीं। चलसमारोह में भारी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए। पहलवान बब्बा, दादा दरबार, लेहदरा हनुमान अंजनि मंदिर सहित सभी मंदिरों में देर शाम तक भक्तों का तांता लगा रहा, प्रसाद दिन भर बंटा। प्रवक्ता अनिल दुबे ने बताया सुबह 9 बजे जन्मआरती के बाद प्रसाद वितरण शुरू किया गया। रामायण की पूर्णाहुति और मुख्य आरती के बाद मंदिर परिसर में श्रद्धालु रुके रहे।

चल समारोह में पालकी में हनुमान की प्रतिमा, बैंड, डीजे, ध्वज के साथ भजन मंडली सुंदरकांड पाठ करते चल रही थी। संकट मोचन मंदिर से शाम को ध्वज चलसमारोह निकला। बालाजी समेत कई हनुमान मंदिरों में अनुष्ठान हुए। परकोटा के पास प्राचीन दक्षिणमुखी हनुमान मंदिर में शाम 7 बजे दीपों से महाआरती की गई। वहीं अपनी पांच मांगों को लेकर धरने पर बैठे डिप्लोमा इंजीनियर्स ने पंडाल में सामूहिक सुंदरकांड पाठ किया। इसमें अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह समेत कई डिप्लोमा इंजीनियर नारेबाजी से परे भक्ति में लीन रहे।

सिद्ध हनुमान मंदिर में सुबह बाबा का शृंगार किया गया, इसके पास अखंड रामायण पाठ शुरू हुआ। रात में महाआरती हुई। पहलवान बब्बा मंदिर में सुबह 6 बजे नित्य अभिषेक पूजन, अर्चन उपरांत 6.30 बजे प्रातःकालीन आरती हुई। गढ़पहरा हनुमान मंदिर पर केसरिया ध्वज चढ़ाया। भंडारा एवं सुंदरकांड का आयोजन हुआ मारुति यज्ञ अभिषेक-पूजन एवं महाआरती पश्चात शाम को भंडारा वहीं आर्ट्स कामर्स कालेज के बाजू वाले दक्षिण मुखी हनुमान मंदिर में भगवान का शृंगार कर चौला चढ़ाया गया, शाम को महाआरती व प्रसादी वितरित की गई । सिविल लाइन स्थित हनुमान मंदिर पर भगवान का शृंगार सहित कई धार्मिक आयोजन हुए। सुबह आरती, शाम को महाआरती हुई।। राजीव नगर वार्ड कुशवाहा समिति ऋारा राम जानकी मंदिर से विशाल वाहन रैली निकाली गई। इसमें मोहन कुशवाहा, अर्जुन पटेल वीरेंद्र पटेल राजाराम पटेल और गोविंद पटेल शामिल थे। राधा टॉकीज हनुमान मंदिर और आईजी बंगला पास स्थित हनुमान मंदिर में शाम को महाआरती हुई।

X
शहर में कहीं बालरूप तो कहीं विशाल रूप हनुमान की पूजा हुई सभी स्वरूपों को देखने भीड़ उमड़ी, शाम को निकले चल समारोह
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..