सागर

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • वाट्सएप व फेसबुक के दुरुपयोग की शिकायतों पर होगी सीधी कार्रवाई : गृहमंत्री
--Advertisement--

वाट्सएप व फेसबुक के दुरुपयोग की शिकायतों पर होगी सीधी कार्रवाई : गृहमंत्री

प्रदेश में बढ़ते साइबर क्राइम और वाट्सएप, फेसबुक आदि के दुरुपयोग को देखते हुए सरकार इस विधानसभा सत्र में जनसुरक्षा...

Danik Bhaskar

Mar 02, 2018, 05:15 AM IST
प्रदेश में बढ़ते साइबर क्राइम और वाट्सएप, फेसबुक आदि के दुरुपयोग को देखते हुए सरकार इस विधानसभा सत्र में जनसुरक्षा अधिनियम पेश करने जा रही है। यह बिल पास होते ही वाट्सएप, फेसबुक के दुरुपयोग की शिकायत मिलने पर पुलिस मामले की जांच कर सीधे कार्रवाई कर सकेगी। यह बात गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने गर्ल्स एक्सीलेंस कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम के दौरान छात्राओं को स्मार्ट फोन बांटते हुए कही। इस कानून के लागू होने से सरकार का सुरक्षा खर्च कम होगा और व्यवसायिक व निजी संस्थानों को सुरक्षा के व्यापक इंतजाम अपनाने पड़ेंगे।

क्या है जन सुरक्षा अधिनियम

गृह एवं परिवहन मंत्री भूपेंद्र सिंह ने एक आयोजन के दौरान कही जनसुरक्षा अधिनियम लाने की बात

जन सुरक्षा अधिनियम में आम जन को सुरक्षा के प्रति जागरूक बनाने के तमाम उपाय हैं। इस कानून के लागू होने पर कोई भी वाट्सएप और फेसबुक का दुरुपयोग और सोशल मीडिया के जरिए की जाने वाली टिप्पणियों पर लगाम कसेगी। मकान मालिक अपने किराएदार की सूचना पुलिस को देने के लिए बाध्य होगा। ऐसा ही हॉस्टल, पेइंग गेस्ट के मामले में होगा। यूनिवर्सिटी, कॉलेज भी इसमें शामिल होंगे। किसी भी व्यावसायिक भवन, मॉल, शापिंग काम्पलेक्स, सिनेमा हाल, नर्सिंग होम, अस्पताल आदि के निर्माण में सुरक्षा के निश्चित मापदंड अपनाए जाएंगे। क्लोज सर्किट कैमरे के अलावा, चेकिंग द्वार, इमरजेंसी गेट, निगरानी पोस्ट आदि की इसमें अनिवार्यता की गई है। ऐसा ही प्रावधान कालोनाइजरों के लिए भी है। रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, बाजार आदि में भी सुरक्षा के अनेक मापदंड इसमें सुझाए गए हैं। बैंकों, एटीएम काउंटरों, वित्तीय लेनदेन वाले अन्य संस्थानों, पेट्रोल पंपों और सर्राफा बाजार में भी निजी तौर पर सुरक्षा के उपाय इसमें सुझाए गए हैं। इन्हें नहीं मानने वालों के लिए दंड का प्रावधान भी है।

Click to listen..