• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • वन संपदा के साथ पकड़े गए 4 लोगों की जमानत अर्जी खारिज
--Advertisement--

वन संपदा के साथ पकड़े गए 4 लोगों की जमानत अर्जी खारिज

वन भूमि पर अतिक्रमण सहित वन संपदा के साथ पकड़े गए राहतगढ़ के तीन आरोपियों की जमानत अर्जी द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 05:15 AM IST
वन भूमि पर अतिक्रमण सहित वन संपदा के साथ पकड़े गए राहतगढ़ के तीन आरोपियों की जमानत अर्जी द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश मनोज कुमार सिंह ने खारिज कर दी है। आरोपियों का आपस में पिता-पुत्र और चाचा का रिश्ता है।

अपर लोक अभियोजक एमडी अवस्थी ने बताया कि 22 फरवरी 18 को आरोपी राजेश उसके पिता सरवेंद्र चाचा खेमचंद विश्वकर्मा तथा कर्मचारी चंद्रेश यादव द्वारा वन भूमि पर अतिक्रमण किया जा रहा था। वन परिक्षेत्राधिकारी राहतगढ़ ने इन्हें अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस दिया था। लेकिन आरोपियों ने अतिक्रमण नहीं हटाया और वन स्टाफ को धमकियां दी। इसी दिन आरोपी के ढाबे पर अतिक्रमण हटाने वन परिक्षेत्र अधिकारी गए। आरोपियों ने शासकीय कार्य में बाधा डालते हुए विवाद की स्थिति निर्मित की। ढाबे की चैकिंग की गई तो मौके से दस नग सागौन, पास ही खड़ी कार से दो नग, दो बाइक से सागौन की छाल बरामद की गई। इसके अलावा ढाबा में रखी सामग्री में छिपी नीलगाय की खाल तथा चीतल का सींग भी बरामद कर जब्त किया गया। आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार किया गया। कोर्ट में चालान पेश किया। यहां से उन्हें जेल भेज दिया। आरोपियों ने जमानत के लिए आवेदन किया था। कोर्ट ने केस डायरी देखने के बाद आरोपियों की जमानत अर्जी निरस्त कर दी।