• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • ध्यान जड़ता नहीं बल्कि पूर्ण चैतन्य हो जाना है डॉ. शर्मा
--Advertisement--

ध्यान जड़ता नहीं बल्कि पूर्ण चैतन्य हो जाना है- डॉ. शर्मा

Sagar News - पतंजलि योग समिति द्वारा संजय ड्राइव पर आयोजित कार्यशाला में योग साधकों को ध्यान पर व्यवहारिक अभ्यास कराते हुए...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 05:15 AM IST
ध्यान जड़ता नहीं बल्कि पूर्ण चैतन्य हो जाना है- डॉ. शर्मा
पतंजलि योग समिति द्वारा संजय ड्राइव पर आयोजित कार्यशाला में योग साधकों को ध्यान पर व्यवहारिक अभ्यास कराते हुए प्रांत संयोजक डा. वेद प्रकाश शर्मा ने कहा की ध्यान से जहां जड़ता और मूढ़ता पूरी तरह से मिट जाती है और अंत में साधक का चित्त निर्जीव हो जाता है। जब तक ध्यान द्वारा व्यक्ति की पहचान नहीं होगी उसको आत्मसम्मान ,आत्मसुख ,आत्मसुख ,आत्मसत्ता ,आत्मशक्ति नहीं मिलेगी। डा. शर्मा ने प्रकृति ,पंच महाभूत एवं सृष्टिकर्ता परमात्मा पर प्रकाश डालते हुए ओम पर ध्यान का अभ्यास कराया।

जिला प्रभारी एवं योग शिक्षक भगत सिंह ने कहा की नगर के साधकों को नवाचार की दृष्टि से माह में एक बार एकत्रित करके विषय विद्वान को आमंत्रित करके योग की उच्च साधना में जुड़ना ,साधना करने की दिशा में प्रेरित करना है।

राज्य प्रभारी डॉ पुष्पांजलि शर्मा ने बताया की मार्च माह के अंतिम सप्ताह में योग प्रचारकों ,योग विस्तारकों का तीन दिवसीय आवासीय योग शिविर हरिद्वार में स्वामी राम देव महाराज के मार्ग दर्शन में किया जा रहा है। दीक्षित होने के बाद यह भाई बहिन समाज में योग का काम करेंगे।

X
ध्यान जड़ता नहीं बल्कि पूर्ण चैतन्य हो जाना है- डॉ. शर्मा
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..