• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • हमें पीछे का सब कुछ भूलकर आज का दिन जीना है : कलेक्टर
--Advertisement--

हमें पीछे का सब कुछ भूलकर आज का दिन जीना है : कलेक्टर

Sagar News - शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय में 12 दिवसीय इंडक्शन ट्रेनिंग प्रोग्राम में 20 रिसोर्स पर्सन ने 40 लेक्चर दिए।...

Dainik Bhaskar

Mar 02, 2018, 05:15 AM IST
हमें पीछे का सब कुछ भूलकर आज का दिन जीना है : कलेक्टर
शासकीय कला एवं वाणिज्य महाविद्यालय में 12 दिवसीय इंडक्शन ट्रेनिंग प्रोग्राम में 20 रिसोर्स पर्सन ने 40 लेक्चर दिए। यह प्रोग्राम व्यक्तिगत प्रभावशीलता, समय प्रबंधन, लक्ष्य निर्धारण, व्यक्तिगत और संगठनात्मक मूल्य, उत्कृष्ट शासकीय लोक सेवक के गुण, प्रबंधन, अंकेक्षण, शासकीय बजट प्रक्रिया, कोषालय नियम, भण्डार क्रय नियम, पेंशन नियम, अवकाश नियम, मप्र वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील अधिनियम 1965, कार्यालयीन कार्य प्रणाली विषय पर केंद्रित था।

समापन में मुख्य अतिथि कलेक्टर आलोक कुमार सिंह ने कहा कि प्रशिक्षण का उद्देश्य अपने काम में नवीनता सजगता तथा पारदर्शिता लाना है। हमंे पीछे का सब भूलकर आज का दिन जीना है। हम खुद प्रसन्न हंै तथा दुनिया को कुछ देना चाहते हैं तो हमें सक्षम बनना होगा। शिवानी रावत से अवकाश नियम, वनपाल नरेश बंसल से विभागीय जांच के बारे में प्रश्न पूछे। प्राचार्य डाॅ. जीएस रोहित ने कहा कि नियमों की जानकारी हमें गलतियों से बचाती है। जनभागीदारी अध्यक्ष विनय मिश्र ने प्रशिक्षण के महत्व को समझाया। ओएसडी आर के गोस्वामी ने कहा कि हमें अपने जीवन का अधिकतम उपयोग करना चाहिए।

डाॅ. अमर कुमार जैन कहा कि सीखने की प्रक्रिया ऐसे प्रशिक्षणों से जीवंत होती है। जीवन में हम प्रतिदिन कुछ नया सीखते है लेकिन जो भी अच्छा सीखे उसका लाभ समाज को मिले। कार्यक्रम में सात विभागों के 35 प्रशिक्षणार्थियों ने भाग लिया। समापन सत्र में सर्वेश्वर उपाध्याय ने अपने व्याख्यान में विधान सभा प्रश्नों के विषय में जानकारी दी।

X
हमें पीछे का सब कुछ भूलकर आज का दिन जीना है : कलेक्टर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..