• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • गौर टाॅवर के बाद जल्द ही कालीचरण तिराहे की रोटरी भी हटाई जाएगी
--Advertisement--

गौर टाॅवर के बाद जल्द ही कालीचरण तिराहे की रोटरी भी हटाई जाएगी

सागर। 1. परकोटा स्थित गौर टावर को शनिवार तक पूरी तरह से हटा दिया गया है। 2. सिविल लाइन स्थित रोटरी जिसे जल्द हटाने की...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 05:40 AM IST
सागर। 1. परकोटा स्थित गौर टावर को शनिवार तक पूरी तरह से हटा दिया गया है। 2. सिविल लाइन स्थित रोटरी जिसे जल्द हटाने की कार्रवाई की जाएगी।

भास्कर संवाददाता। सागर

तीन बत्ती रोड स्थित गौर टावर को रातों-रात ध्वस्त करने के बाद यातायात पुलिस और नगर निगम शहर की कुछ और रोटरी को तुड़वाकर छोटा या मूल स्थान से खिसका सकती हैं। सूत्रों के अनुसार नगर निगम और यातायात पुलिस का अगला टारगेट सिविल लाइन स्थित शहीद कालीचरण की मूर्ति वाली रोटरी है।

यातायात पुलिस ने अपनी रिपोर्ट में इस रोटरी के कारण होने वाली अघोषित पार्किंग आैर एक्सीडेंट की संभावना बनी रहने की बात कही थी। दोनों विभाग इस रोटरी के अलावा पहलवान बब्बा मंदिर के सामने स्थित रोटरी को भी हटवाएंगे। इस सूची में रामाश्रम होटल के सामने स्थित स्व. दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा वाली रोटरी भी है लेकिन महापौर अभय दरे का कहना है कि इस संबंध में अंतिम निर्णय एक्सपर्ट्स द्वारा ग्रांउड रिपोर्ट बनवाने के बाद ही लेंगे। बता दें कि स्व. दीनदयालजी, भाजपा में पितृ पुरुष का दर्जा रखते हैं और वर्तमान में नगर निगम भाजपा शासित है। इस संबंध में महापौर दरे का कहना है कि रोटरी समेत निजी स्थाई अतिक्रमण यातायात व्यवस्था बिगाड़ने के अलावा असामाजिक तत्वों के इकट्ठे होने के लिए आड़ साबित हो रहे है।

हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने इस संबंध में बहुत स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि ऐसे सभी अतिक्रमण हटा दिए जाएं। महापौर का कहना है कि रामाश्रम होटल के सामने से पॉवर हाउस ऑफिस की बाउंड्री तक रोड को डिवाइड किया जाएगा, ताकि जिला अस्पताल-गोपालगंज तरफ से आने वाले वाहन और तीन मढ़िया के सामने से आने वाले वाहन आपस में नहीं टकराएं।

गरीबों के टपरे टारगेट, रसूखदारों के नाम पर बहानेबाजी

अतिक्रमण की इस कार्रवाई में नगर निगम और यातायात पुलिस संयुक्त रूप से कार्रवाई कर रहे हैं। खास बात ये है कि दोनों ही विभागों का अमला इस मुहिम में केवल छोटे-छोटे व्यवसायियों को निशाना बना रहा है। उदाहरण के लिए तीन मढ़ियां पर एक पान के टपरे को जेसीबी से पूरी तरह से नष्ट कर दिया गया। इसी तरह कटरा बाजार में दर्जनों ठेले वालों की मय सामग्री की जब्ती की जा रही है। इसी कटरा बाजार में पक्की दुकान वाले दर्जनों बड़े व्यापारी कभी अपनी चार पहिया गाड़ी तो कभी फ्रीज-कूलर, स्टील के बर्तन आदि का कई-कई फुट बाहर सड़क तक जमाए हुए हैं। इनके खिलाफ कार्रवाई करने की हिम्मत दोनों नहीं जुटा पा रहे हैं।

रोटरी की आड़ में होती है अवैध पार्किंग