--Advertisement--

रिश्वत लेते पकड़े गए एसडीओ कर रहे बिल पास, 22 माह में लोकायुक्त पेश नहीं कर पाई चालान

Sagar News - जेसीबी छोड़ने के एवज में 70 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए थे वर्मा राजकुमार प्रजापति | सागर बकस्वाहा में दो...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:36 AM IST
Sagar News - bill passes holding sdos caught in bribe lokayukta could not present in 22 months challan
जेसीबी छोड़ने के एवज में 70 हजार की रिश्वत लेते पकड़े गए थे वर्मा

राजकुमार प्रजापति | सागर

बकस्वाहा में दो साल पहले 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गए वन विभाग के एसडीओ बीएल वर्मा को सागर अनुसंधान व विस्तार केंद्र में आहरण व संवितरण अधिकारी का प्रभार दिया गया है। यानी इनके हस्ताक्षर के बिना कोई बिल पास नहीं हो सकता।

भ्रष्टाचार में फंसे अफसर को मलाईदार प्रभार देने के पीछे जिम्मेदार वरिष्ठ अधिकारियों की मंशा पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं। इस संबंध में प्रधान मुख्य वन संरक्षक से शिकायत का भी कोई असर नहीं दिख रहा। लोकायुक्त पुलिस द्वारा मामले में चालान पेश न किया जाना भी संदेह पैदा कर रहा है। वर्ष 2017 में बकस्वाहा में पोस्टिंग के दौरान एसडीओ वर्मा ने अवैध खनन करते एक जेसीबी जब्त की थी। उसे छोड़ने के एवज में मनीष जैन से 70 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए वे रंगे हाथ पकड़े गए थे। छतरपुर के रहने वाले वर्मा की राजनैतिक पहुंच बताई जा रही है। वे ट्रैप होने के बाद सागर वन विभाग के अनुसंधान व विस्तार केंद्र में पदस्थ किए गए तो यहां उन्हें सीधा डीडीओ का चार्ज सौंप दिया गया। विभाग के ही अधिकारी-कर्मचारी उनकी पोस्टिंग पर सवाल उठा रहे हैं। इस संबंध में प्रधान मुख्य वन संरक्षक को की गई शिकायत में उनका यह पूरा काला चिट्ठा खोला गया है। वन विभाग अब तक अवैध कटाई, लकड़ी चोरी व वन्य प्राणियों के शिकार को लेकर बदनाम रहा है। अब दागदारों को इस तरह के प्रभार देने की यहां एक नई परंपरा शुरू हुई है।

एसडीओ के हैं दो पद, दूसरा यहां आने नहीं दे रहे

अनुसंधान व विस्तार केंद्र में एसडीओ के दो पद हैं। यहां लंबे समय से एक ही एसडीअो पदस्थ हैं। विभागीय सूत्रों के अनुसार डीडीओ का चार्ज वर्मा के पास ही रहे इसलिए यहां दूसरे एसडीओ की पोस्टिंग नहीं होने दी जा रही। इस पूरे मामले में एसडीओ बीएल वर्मा से बात करने की कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं किया।

जानकारी नहीं, दूसरा एसडीओ लाएंगे


पुराने केसों में चालान पेश करने की तैयारी है

लोकायुक्त कार्रवाई के जितने भी पुराने केस हैं, उनके चालान पेश करने की तैयारी चल रही है। इस केस की जानकारी निकलवाता हूं। जल्द चालान पेश करेंगे। -राजेश खेड़े, डीएसपी लोकायुक्त

X
Sagar News - bill passes holding sdos caught in bribe lokayukta could not present in 22 months challan
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..