--Advertisement--

गाेपालगंज से निकली घटयात्रा, ध्वजारोहण; पंचकल्याणक शुरू

Sagar News - भाग्योदय तीर्थ परिसर में शनिवार से पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव की शुरूआत घटयात्रा और ध्वजारोहण के साथ की गई। मुनि...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 04:36 AM IST
Sagar News - clockwork from the gappalganj hoisting of the flag panchkalyank start
भाग्योदय तीर्थ परिसर में शनिवार से पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव की शुरूआत घटयात्रा और ध्वजारोहण के साथ की गई। मुनि योगसागर महाराज के ससंघ सानिध्य में प्रतिष्ठाचार्य ब्रम्हचारी विनय भैया ने ध्वजारोहण की क्रियाएं संपन्न कराई।

गोपालगंज से सुबह 8 बजे शुरू हुई घट यात्रा मुख्य बस स्टैंड, तीन मढ़िया से परकोटा होते हुए नमक मंडी में पार्श्वनाथ जैन मंदिर पहुंची। जहां से घटयात्रा का रूप और विशाल हो गया। बग्घियों में श्रीजी को लेकर के सौधर्म इन्द्र आनंद अजीत जैन, ध्वजारोहण कर्ता महेश बिलहरा, भगवान के माता पिता राकेश- नमिता, कुबेर संदीप- टीना जैन, महायज्ञ नायक आकाश कपिल सिंह ,प्रेमचंद -संध्या , अनूप-रूपाली जैन, सट्टू मनीष , देवेंद्र- उषा जैन, प्रकाश पारस सहित बड़ी संख्या में जैन समाज के लोग थे।

विशाल घट यात्रा विजय टॉकीज तिराहा, राहतगढ़ बस स्टैंड, रेलवे ओवरब्रिज होकर सुभाष नगर से भाग्योदय पहुंची।

भगवान के माता-पिता बने पात्रों का सम्मान किया

मंत्रोच्चार के बीच किया ध्वजारोहण

प्रतिष्ठाचार्य विनय भैया ने वेदी शुद्धि सभी प्रमुख पात्रों से कराई। इस मौके पर भगवान के माता पिता बने नाभिराय राकेश पिड़रुआ और मरूदेवी नमिता जैन का सम्मान गजरथ कमेटी के पदाधिकारियों और अन्य उपस्थित लोगों ने किया, इसके बाद विधि विधान और मंत्रोच्चार के साथ ध्वजारोहण समाजसेवी रमेश जैन, महेश बिलहरा,संतोष बिलहरा ऋतुल् जैन, राहुल जैन, अर्चित जैन ने किया। इस दौरान र|ों की वर्षा की गई। मुनिसंघ और आर्यिका संघ के सानिध्य में आरंभ हुए पंचकल्याणक गजरथ महोत्सव में श्रीजी का अभिषेक और शांतिधारा हुई। मुनि श्री के मंगल प्रवचन हुए।

17 मुनिराज और 5 आर्यिका का ससंघ सानिध्य



जैन महिला परिषद ने की पूजा, श्रीफल भी भेंट किए

अखिल भारत वर्षीय दिगंबर जैन महिला परिषद की वर्धमान शाखा सहित परिषद की सभी शाखाओं ने भाग्योदय तीर्थ परिसर पहुंच कर आचार्यश्री विद्या सागर महाराज की पूजा-अर्चना की और पुण्य अर्जित करने महिलाओं ने चंदन चढ़ाया। परिषद की सभी सदस्य हथकरघा की साड़ी पहने हुई थीं। देश के प्रति त्याग एवं समर्पण के भाव व्यक्त करते हुए उन्होंने मुनि योगसागर महाराज को श्री फल भेंट किए। भगवान के माता-पिता को विद्या भवन में बुला कर उनकी गोद भराई की।

X
Sagar News - clockwork from the gappalganj hoisting of the flag panchkalyank start
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..