Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» बारदाना न होने के कारण 13 गांव के किसान लगा रहे सोसायटी के चक्कर

बारदाना न होने के कारण 13 गांव के किसान लगा रहे सोसायटी के चक्कर

ग्राम पटेरिया सोसाइटी में बारदाना नहीं होने के कारण किसान परेशान हैं। बारदान न मिलने के कारण किसान को खुले में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 16, 2018, 04:10 AM IST

बारदाना न होने के कारण 13 गांव के किसान लगा रहे सोसायटी के चक्कर
ग्राम पटेरिया सोसाइटी में बारदाना नहीं होने के कारण किसान परेशान हैं। बारदान न मिलने के कारण किसान को खुले में अपना अनाज रखना पड़ रहा है। इसके पहले भी बारदाने की कमी आने के कारण न तो तुलाई हो पा रही है न ही किसानों को पर्याप्त सुविधा मिल पा रही है। किसानों ने अध्यक्ष से कहा था बारदाना दिलवा दीजिए लेकिन अध्यक्ष 5 दिन से गायब हैं। किसानों का आरोप है की अध्यक्ष सबसे ज्यादा अनाज भरते हैं और किसानों को बोरिया नहीं देते हैं।

वर्षा दुबे नायब तहसीलदार पटेरा से निरीक्षण के लिए पहुंची थी उसके बाद कुछ सुधार देखने को मिला था लेकिन किसानों का कहना है कि 2-3 दिन कुछ सुधार देखने को मिला था उसके बाद वैसे ही चल रहा है जैसे की पहले चलता था अब बारदाना नहीं है। यह कहकर बोल देते हैं रोज सोसाइटियों के चक्कर लगाना पड़ता है कि बारदाना आज आएगा कल आएगा अभी आएगा यह बोलकर किसानों को मायूस घर लौट जाना पड़ता है। किसी की बेटी की शादी है किसी को दवाई के लिए पैसे चाहिए किसी की जरूरत है कुछ है लेकिन किसानों का माल ना तुलने गेहूं ना तुलने के कारण किसानों की आवक रुक सी गई है। मजबूरन किसानों को कम दाम में अनाज बेचना पड़ रहा है। समय से बारदाना आ जाता तो किसानों को पर्याप्त सुविधा मिल जाती और उनका सही से अनाज तुल जाता।

जब वर्षा दुबे नायब तहसीलदार पटेरा ने गोदाम खुलवाई तो सिर्फ 500 बोरियां मिली थी जब रिकार्ड मांगा गया तो रिकॉर्ड में 16500 बोरियां निकली थी। लेकिन सिर्फ बोरियों का कोई भी रिकॉर्ड नहीं था उसके बाद किसानों का आरोप था कि अध्यक्ष किसी के नाम की बोरियां किसी के नाम पर देता है किसी का अंगूठा लगवाता है इस तरीके का गोल मटोल कर रहा है। किसानों ने बताया अध्यक्ष के यहां 16 हजार बोरियां रखी हुई हैं उस दिन से आज तक एक भी किसान को बारदाना नहीं मिला। नरेंद्र लोधी,बुध्द लोधी, बबलू, सुनील, राजेश, हजारी, करन, बिहारी, राजू, कमलेश ने बताया कि अध्यक्ष से परेशान है किसानों का आरोप है की अध्यक्ष के कार्यकाल से संतुष्ट नहीं हैं अध्यक्ष मनोज अग्रवाल किसानों को संतुष्ट नहीं कर पा रहे हैं न तो दिलासा दे रहे हैं कि बारदाना आपको जल्द से जल्द उपलब्ध कराया जाएगा।

बनवार। खरीदी केंद्र पर पड़ा अनाज।

वाहनों को रोककर की

जा रही अवैध वसूली

पटेरा। मंडी में अवैध वसूली से किसान परेशान हैं। जानकारी अनुसार कर्मचारियों द्वारा पटेरा में कुंडलपुर फतेहपुर के बीच में खड़े होकर पिकअप रोका जाता है और उनके द्वारा अवैध वसूली की जाती है। मैजिक एवं पिकअप वाहन से 2 सौ से 5 सौ रुपए तक लिए जाते हैं। बताया गया कि यह कारोबार लगातार जारी है और अगर कोई भी रुपए देने से मना करता है तो उसे लोग परेशान करते हैं जबकि सुबह से ही मंडी के कर्मचारी पहुंच जाते हैं जो रात्रि में भी घाट पिपरिया से लेकर कुमारी और कुण्डलपुर फतेहपुर तक ट्रक एवं बड़े वाहनों को रोककर उन से अवैध वसूली करते हैं। शिकायत करने पर भी अधिकारियों द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। रुपए लेकर वाहनों को छोड़ दिया जाता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×