• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • पर्याप्त बजट, सब सुविधाएं फिर भी महिला सशक्तिकरण विभाग बंद
--Advertisement--

पर्याप्त बजट, सब सुविधाएं फिर भी महिला सशक्तिकरण विभाग बंद

लंबे समय से चल रही कवायद और प्रक्रिया के बाद आखिर महिला सशक्तिकरण विभाग को खत्म कर दिया गया। इसे महिला एवं बाल...

Danik Bhaskar | May 01, 2018, 03:10 AM IST
लंबे समय से चल रही कवायद और प्रक्रिया के बाद आखिर महिला सशक्तिकरण विभाग को खत्म कर दिया गया। इसे महिला एवं बाल विकास विभाग में मर्ज किया गया है। भारी-भरकम बजट और तमाम सुविधाओं के बाद भी यह विभाग महज छह साल में कुपोषित होकर अल्प समय में ही दम तोड़ गया।

जानकारों का यहां तक कहना है कि इस विभाग की अलग से जरूरत ही नहीं थी। इसके द्वारा संचालित योजनाएं और कार्य पहले भी बेहतर ढंग से होते आए हैं।

महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी डीएस मीणा ने बताया कि अभी सिर्फ विभाग को मर्ज करने संबंधी जानकारी हमारे पास अाई है। इसके अलावा शासन की आगे की क्या योजना है इस पर अभी विचार चल रहा है। उन्होंने बताया कि विभाग को मर्ज किए जाने के लिए महिला एवं बाल विकास विभाग मंत्रालय द्वारा गजट नोटिफिकेशन करने के साथ ही शुक्रवार को इसको लेकर आदेश भी जारी कर दिया गया। महिला एवं बाल विकास विभाग उप सचिव पीके ठाकुर द्वारा जारी आदेश में कहा है कि इन विभागों द्वारा संचालित सभी कार्य और योजनाएं महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित और क्रियान्वित होंगे।

दोनों विभागों के प्रदेश से लेकर जिला, परियोजना और ब्लाक स्तर तक के अधिकारी-कर्मचारी भी अब महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रशासकीय नियंत्रण में रहेंगे। इसके कार्यालयों के लिए स्वीकृत पदों का भी युक्तियुक्तकरण जल्दी किया जाएगा। इसके लिए अलग से आदेश जारी किए जाएंगे।