सागर

--Advertisement--

महामुनिराज आचार्यश्री पपौराजी में विराजमान

टीकमगढ़। बुंदेल खंड के तीर्थ क्षेत्रों में एक पपौराजी ही स्थान है। प्राचीन काल के इस वैभव शाली क्षेत्र में...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 03:10 AM IST
टीकमगढ़। बुंदेल खंड के तीर्थ क्षेत्रों में एक पपौराजी ही स्थान है। प्राचीन काल के इस वैभव शाली क्षेत्र में विराजमान आचार्यश्री श्रद्धालुओं ने श्रद्धाभाव के सही मार्ग दिख रहे है। पपौरा मंदिर स्थित जिन प्रतिमास गगन चुंभी जिनालय में विराजमान है।

मंदिरों के अलावा यहां के मेठ, मेरू, भौवरे और अट्टालिका कला और संस्कृति के अनुपम और स्वरूप दर्शाती है। जहां राष्ट्रीय संत आचार्य विद्यासागर महाराज के लगभग 21 दिनों से प्रवचन चल रहे है। गुरूवार को सुबह 6 बजे गुरू भक्ति हुई। जिसके बाद आचार्यश्री को शास्त्र भेंट किया गया।

X
Click to listen..