Home | Madhya Pradesh | Sagar | हरपालपुर सीएमओ लंबी छुट्टी पर, नए सीएमओ को नहीं कराया ज्वाइन

हरपालपुर सीएमओ लंबी छुट्टी पर, नए सीएमओ को नहीं कराया ज्वाइन

नगर परिषद हरपालपुर की अध्यक्ष का विवादों से गहरा नाता है, एक बार वह फिर विवादों में घिरती नजर आ रही हैं। सीएमओ सुषमा...

Bhaskar News Network| Last Modified - May 12, 2018, 02:45 AM IST

1 of
हरपालपुर सीएमओ लंबी छुट्टी पर, नए सीएमओ को नहीं कराया ज्वाइन
नगर परिषद हरपालपुर की अध्यक्ष का विवादों से गहरा नाता है, एक बार वह फिर विवादों में घिरती नजर आ रही हैं। सीएमओ सुषमा मिश्रा के लंबे अवकाश पर चले जाने के कारण परिषद की व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने के लिए कलेक्टर छतरपुर ने सीएमओ का अतिरिक्त कार्यभार तहसीलदार नौगांव जिया फातिमा को दिया था।

तहसीलदार ने सीएमओ का अतिरिक्त कार्यभार ग्रहण करने से इंकार कर दिया गया। इसके बाद कलेक्टर ने महाराजपुर के सीएमओ बसंत चतुर्वेदी को हरपालपुर सीएमओ का अतिरिक्त कार्यभार सौंप दिया। लेकिन नगर परिषद अध्यक्ष ममता बैसाखिया ने ज्वाइनिंग लेटर पर हस्ताक्षर करने से मना कर दिया। बसंत चतुर्वेदी ने कलेक्टर को इस बात से अवगत भी करा दिया है।

नियमित सीएमओ के लंबी छुट्टी पर जाने के कारण परिषद की व्यवस्थाएं देखने, अन्य कार्यों के संचालन के लिए किसी एक व्यक्ति को सीएमओ का कार्यभार संभालना जरूरी है। लेकिन यहां का सीएमओ का पद खाली होने से व्यवस्थाएं प्रभावित हो रही हैं। वहीं अध्यक्ष ममता बैसाखिया का कहना है कि महाराजपुर सीएमओ बसंत चतुर्वेदी खुद यहां नहीं आना चाहते, उन्‍होंने खुद मुझसे कहा है कि मैडम मैं यहां का चार्ज नहीं लेना चाहता। मैं 100 किलोमीटर का सफर करके यहां का काम बखूबी नहीं देख सकता।

हरपालपुर। नगर परिषद हरपालपुर कार्यालय भवन।

सीएमओ के कक्ष में लटका ताला।

गढ़ीमलहरा सीएमओ को दिलाना चाहती हैं चार्ज

सूत्रों से पता चला है कि हरपालपुर में ड्राइवर से लेकर सीएमओ तक का सफर तय करने वाले गढ़ीमलहरा में पदस्थ हरपालपुर के नवाब सिंह को अध्यक्ष सीएमओ बनाना चाहती है। जिससे उनके मनमाफिक नगर परिषद में चल सकें, लेकिन नवाब सिंह के खिलाफ कांग्रेस के नेता मोहम्मद इसराज खान ने मोर्चा खोल दिया। उन्‍होंने धमकी दे डाली कि यदि नवाब सिंह को हरपालपुर का कार्यभार सौंपा तो विरोध प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस नेता इसराज मोहम्मद का कहना है स्थानीय होने के कारण नवाब सिंह के खिलाफ मामला कोर्ट में लंबित है और यदि उन्हें ज्वाइन कराया जाता है तो विरोध के साथ-साथ उनके पुराने कारनामों को भी उजागर करेंगे।

गढ़ीमलहरा सीएमओ को दिलाना चाहती हैं चार्ज

सूत्रों से पता चला है कि हरपालपुर में ड्राइवर से लेकर सीएमओ तक का सफर तय करने वाले गढ़ीमलहरा में पदस्थ हरपालपुर के नवाब सिंह को अध्यक्ष सीएमओ बनाना चाहती है। जिससे उनके मनमाफिक नगर परिषद में चल सकें, लेकिन नवाब सिंह के खिलाफ कांग्रेस के नेता मोहम्मद इसराज खान ने मोर्चा खोल दिया। उन्‍होंने धमकी दे डाली कि यदि नवाब सिंह को हरपालपुर का कार्यभार सौंपा तो विरोध प्रदर्शन करेंगे। कांग्रेस नेता इसराज मोहम्मद का कहना है स्थानीय होने के कारण नवाब सिंह के खिलाफ मामला कोर्ट में लंबित है और यदि उन्हें ज्वाइन कराया जाता है तो विरोध के साथ-साथ उनके पुराने कारनामों को भी उजागर करेंगे।

मुझे काम को सीएमओ चाहिए, नाम को नहीं

इस मामले में अध्यक्ष ममता बैसाखिया का कहना है कि बसंत चतुर्वेदी ने खुद यहां आने से इंकार किया है। हमें जनता ने चुन कर भेजा है, हमें जवाब देना है। हमें काम के लिए सीएमओ चाहिए, नाम के लिए नहीं। किसी 100 किलोमीटर दूर के व्यक्ति को चार्ज देने से वह कितना काम करेगा। किसी पास के व्यक्ति को चार्ज दे दिया जाए जो कमसे कम सप्ताह में तीन दिन तो आकर देख सके। कोई नहीं है तो नगर परिषद के ही किसी वरिष्ठ कर्मचारी को चार्ज दे दें।

हरपालपुर सीएमओ लंबी छुट्टी पर, नए सीएमओ को नहीं कराया ज्वाइन
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now