सागर

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • खजुराहो का प्रेम सागर तालाब सूखा, पर्यटकों को नहीं मिल पा रहा जलविहार का लाभ
--Advertisement--

खजुराहो का प्रेम सागर तालाब सूखा, पर्यटकों को नहीं मिल पा रहा जलविहार का लाभ

भीषण गर्मी के कारण पर्यटन नगरी का प्रेम सागर तालाब सूख गया है। तालाब सूख जाने से पर्यटक पानी में पश्चिम मंदिर समूह...

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 03:00 AM IST
खजुराहो का प्रेम सागर तालाब सूखा, पर्यटकों को नहीं मिल पा रहा जलविहार का लाभ
भीषण गर्मी के कारण पर्यटन नगरी का प्रेम सागर तालाब सूख गया है। तालाब सूख जाने से पर्यटक पानी में पश्चिम मंदिर समूह के विशाल मंदिर विश्वनाथ की छाया नहीं निहार पा रहे। न ही पर्यटक तालाब में वोटिंग का लुत्फ उठा पा रहे हैं। इसके चलते प्रेम सागर तालाब पर शाम को अब पहले जैसी चहल पहल व रौनक दिखाई नहीं देती। प्रेम सागर तालाब सूख जाने से इससे लगे सेवा ग्राम एरिया का जल स्तर तेजी से नीचे चला गया है। यहां के रहवासियों को जल संकट का सामना करना पड़ रहा है।

पश्चिम मंदिर समूह के लाइट एंड साउंड के प्रमुख गेट के सामने स्थित प्रेम तालाब पर करोड़ों रुपए खर्च कर सौंदर्यीकरण के तहत घाट निर्माण किया गया, वहीं ग्रिल के नाम पर लाखों खर्च किए, तालाब गहरीकरण के नाम पर भी मोटी रकम खर्च की गई। लेकिन ऐसे प्रयास नहीं किए जा सके जिससे तालाब का सीवेज से पानी न निकल सके। इसमें हमेशा पानी बना रहे इसके उपाय नहीं किए, यहां यदि कोई बोर करा दिया जाता तो पानी का रीसाइकिल होता रहता । गहरीकरण के कारण सिल्ट हट जाने से पानी रिस गया। यह तालाब देशी- विदेशी पर्यटकों को लुभाने, उनके मनोरंजन के लिए अति महत्वपूर्ण माना जाता है। लेकिन इस ओर प्रशासन की उपेक्षा के कारण अब रौनक खत्म होती जा रही है।

हालांकि स्थानीय प्रशासन की पहल पर तालाब के बाजू से निकल बैनीगंज बांध की नहर के माध्यम से प्रेम सागर तालाब को पानी से भरा जाता रहा है। जिससे इसकी सुंदरता कायम रहे।

गर्मी का असर

तालाब गहरीकरण के नाम पर भी मोटी रकम खर्च, फर भी नहीं बचा पानी

X
खजुराहो का प्रेम सागर तालाब सूखा, पर्यटकों को नहीं मिल पा रहा जलविहार का लाभ
Click to listen..