Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» रोजाना अप- डाउन करने वाले शासकीय कर्मचारी चलती ट्रेन में खेलते हैं जुआ

रोजाना अप- डाउन करने वाले शासकीय कर्मचारी चलती ट्रेन में खेलते हैं जुआ

पथरिया नगर के शासकीय कार्यालयों में पदस्थ अधिकारी कर्मचारी व शिक्षक रोजाना सागर व दमोह से ट्रेनों में अपडाउन...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 09, 2018, 03:45 AM IST

रोजाना अप- डाउन करने वाले शासकीय कर्मचारी चलती ट्रेन में खेलते हैं जुआ
पथरिया नगर के शासकीय कार्यालयों में पदस्थ अधिकारी कर्मचारी व शिक्षक रोजाना सागर व दमोह से ट्रेनों में अपडाउन करते समय अपना टाइम पास करने के लिए जुआ का सहारा लेते हैं। चाहे कार्यालय में आने का समय हो या जाने का, यह अधिकारी ट्रेन में एक साथ एक ही बोगी में सफर करते हैं और गुट बनाकर ताश खेलना शुरू कर देते हैं। इसमें गौर करने वाली बात यह है कि जुआ खेलने वाले अधिकांश कर्मचारी शिक्षा विभाग से हैं। यदि शिक्षकों का ही ऐसा आचरण है तो वे आखिर बच्चों को नैतिकता का पाठ कैसे पढ़ाएंगे?

हैरानी की बात तो यह है कि इनके ताश खेलने से ट्रेन में बैठे अन्य यात्रियों व दूसरे प्लेटफार्म पर चढ़ने वाले यात्रियों को भी खासी परेशानी होती है, लेकिन यह लोग गुट बनाकर बैठकर जुआ-ताश में मशगूल रहते हैं। खास बात यह है कि ताशपत्ती खेलने वालों में ज्यादातर शिक्षक हैं, जो स्कूलों में बच्चों को अच्छे संस्कार सिखाते हैं, लेकिन जब लोग ऐसे शिक्षकों को स्वयं ही ताशपत्ती खेलते हुए देखते हैं तो तरह-तरह की चर्चाएं करते हैं। जिससे यात्रियों को परेशानी होती है।

ये क्या पढ़ाएंगे नैतिकता का पाठ

मंगलवार की सुबह 11.30 बीना-कटनी शटल में आधा दर्जन कर्मचारी ताशपत्ती खेल रहे थे। पास में ही बैठे किसी व्यक्ति ने मोबाइल से उनकी फोटो खींच ली। इस दौरान खिड़की के बाजू में चश्मा लगाए गर्ल्स स्कूल में पदस्थ आरएन मिश्रा, सीट पर बीच में बैठे सफेद शर्ट पहने बीईओ ऑफिस के लिपिक विजय ठाकुर, उनके सामने कत्था कलर की शर्ट पहने जनपद का कंप्यूटर ऑपरेटर भरत बैठे हैं, जो ताशपत्ती में इतने मशगूल हैं कि आजू-बाजू से निकलने वाले लोगों की परेशानियों को भी नहीं समझ रहे हैं। महत्वपूर्ण बात तो यह है कि इन सभी कर्मचारियों के ऑफिस आने का समय सुबह 10.30 बजे है, लेकिन यह रोजाना 11.30 बजे की ट्रेन से अपडाउन करते हैं। इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को भी है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।

Ãऐसा करना सरासर गलत है। मैं कल ही संबंधित कर्मचारियों का पता लगाता हूं। दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। -संजीव साहू, एसडीएम

दमोह. ट्रेन में ताश खेलते शासकीय कर्मचारी।

मंगलवार की सुबह 11.30 बीना-कटनी शटल में आधा दर्जन कर्मचारी ताशपत्ती खेल रहे थे। पास में ही बैठे किसी व्यक्ति ने मोबाइल से उनकी फोटो खींच ली। इस दौरान खिड़की के बाजू में चश्मा लगाए गर्ल्स स्कूल में पदस्थ आरएन मिश्रा, सीट पर बीच में बैठे सफेद शर्ट पहने बीईओ ऑफिस के लिपिक विजय ठाकुर, उनके सामने कत्था कलर की शर्ट पहने जनपद का कंप्यूटर ऑपरेटर भरत बैठे हैं, जो ताशपत्ती में इतने मशगूल हैं कि आजू-बाजू से निकलने वाले लोगों की परेशानियों को भी नहीं समझ रहे हैं। महत्वपूर्ण बात तो यह है कि इन सभी कर्मचारियों के ऑफिस आने का समय सुबह 10.30 बजे है, लेकिन यह रोजाना 11.30 बजे की ट्रेन से अपडाउन करते हैं। इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को भी है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की जाती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×