Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» दूल्हे ने दुल्हन के साथ सेल्फी ली तो किसी ने जूस पिलाकर दिलाई राहत

दूल्हे ने दुल्हन के साथ सेल्फी ली तो किसी ने जूस पिलाकर दिलाई राहत

नगर के बस स्टैंड परिसर में कन्यादान विवाह योजना के तहत 175 जोड़ों की शादियां वैदिक-रीति रिवाज के अनुसार हुईं। सुबह से...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 14, 2018, 04:00 AM IST

दूल्हे ने दुल्हन के साथ सेल्फी ली तो किसी ने जूस पिलाकर दिलाई राहत
नगर के बस स्टैंड परिसर में कन्यादान विवाह योजना के तहत 175 जोड़ों की शादियां वैदिक-रीति रिवाज के अनुसार हुईं। सुबह से ही आयोजन स्थल पर लोगों की भीड़ लगना शुरू हो गई थी। आयोजन को लेकर अधिकारी व्यवस्थाएं बनाने में जुटे रहे। आयोजन स्थल पर 151 वेदियां बनाई गईं थीं। जब अलग-अलग वेदियों पर दूल्हे-दुल्हनों ने अग्नि के फेरे लगाए तो यहां का नजारा देखते ही बन रहा था।

भीषण गर्मी के दौरान वर-वधु व उनके परिजनों को गर्मी से बचाने के लिए आयोजन समिति द्वारा ठंडा पानी व शीतल जूस की व्यवस्था की गई थी। साथ ही लोगों के मनोरंजन के लिए पंडाल स्थल पर ही लोकगीत का आयोजन किया गया था ताकि लोग अपना मनोरंजन कर सकें। विवाह के बाद आयोजन स्थल पर वर-वधु भी खुश नजर आ रहे थे। इस दौरान कई दूल्हे अपनी दुल्हनों के साथ सेल्फी लेते नजर आए। तो वहीं कई जोड़े अपनी नई नवेली दुल्हन को गर्मी से बचाने अपने हाथों से ठंडा जूस पिलाते नजर आए। इस अवसर पर अधिकारी व जनप्रतिनिधियों ने आयोजन स्थल पहुंचकर वर-वधुओं को आशीर्वाद दिया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया, विधायक लखन पटेल, सहकारिता अध्यक्ष राजेंद्र गुरू, नगर परिषद अध्यक्ष कृष्णा लक्ष्मण सिंह, गौरव पटेल, रामबिहारी पटैल, देवीसिंह, रानू चौरसिया, अंकित पटेल, संदीप पटेल, लक्ष्मी मिश्रा, सुरेश नामदेव, स्वाति जैन मौजूद थे।

25 हजार की राशि खाते में डाली

जनपद सीईओ अवधेश सिंह ने बताया कि कन्यादान योजना के तहत प्रत्येक वर-वधु के खाते में 25 हजार रुपए की राशि जमा कराई जा रही है ताकि वह अपनी पसंद की सामग्री खरीद सकें। इस राशि में से 17 हजार रुपए गृहस्थी के लिए, 5 हजार रुपए की राशि वधु के लिए व शेष राशि अन्य विवाह व्यवस्था के लिए दी गई है।

पथरिया। दुल्हन के साथ सेल्फी लेता दूल्हा। इनसेट: दुल्हन को जूस पिलाते हुए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×