Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» अभावों में खिलती प्रतिभा...बीड़ी मजदूर के बेटे ने 12वीं और बेटी ने 10वीं में जिले में किया टॉप

अभावों में खिलती प्रतिभा...बीड़ी मजदूर के बेटे ने 12वीं और बेटी ने 10वीं में जिले में किया टॉप

कहते हैं प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती। उसे न तो मंच की जरुरत होती है और न ही किसी सहारे की। ऐसा ही कुछ कर दिखाया...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 15, 2018, 03:20 AM IST

अभावों में खिलती प्रतिभा...बीड़ी मजदूर के बेटे ने 12वीं और बेटी ने 10वीं में जिले में किया टॉप
कहते हैं प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती। उसे न तो मंच की जरुरत होती है और न ही किसी सहारे की। ऐसा ही कुछ कर दिखाया है बीड़ी मजदूर के बेटे और बेटी ने। बेटे ने बारहवीं में साइंस ग्रुप में जिले में पहला स्थान बनाया, वहीं बेटी ने दसवीं में 91.8 फीसदी अंक लेकर बेहतर प्रदर्शन किया। सोमवार को जब बेटा और बेटी का रिजल्ट आया तो परिजन खुशी से झूम उठे। पृथ्वीपुर तहसील के वार्ड नंबर 6 के निवासी राजाराम विलारया के बेटे नरेंद्र ने 12वीं कक्षा की मैरिट सूची में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। उसे 94. 8 फीसदी अंक मिले हैं। उसकी छोटी बहन ने दसवीं में 91. 8 फीसदी अंक प्राप्त किए हैं। नरेंद्र बचपन से होनहार रहा है। कक्षा 1 से लेकर 12वीं तक अपने विद्यालय की मैरिट सूची में स्थान बनाया। नरेंद्र का कहना है का सपना आईपीएस बनने का है तो बहन नेहा डॉक्टर बनकर समाजसेवा करना चाहती है।

परीक्षा परिणाम आने के बाद भास्कर टीम जब नरेंद्र के घर पहुंची तो देखा कि सकरी गली में छोटे से जर्जर घर में मां बीड़ी बना रही थी। बेटे के जिला टॉप करने एवं बेटी के दसवीं में शानदार प्रदर्शन करने के बाद भी घर में खुशी का माहौल छा गया। रिजल्ट सुनकर मां के आंसू भर आए।

नरेंद्र की मां राजकुमारी विलारया ने बताया कि नरेंद्र के पिता एक छोटे से किसान हैं। सूखा की स्थिति में उन्होंने दिन और रात बीड़ी बनाकर अपने बच्चों को प्राइवेट स्कूल में पढ़ाया। इतना ही नहीं कोचिंग के साथ बच्चों की पढ़ाई संबंधी हर जरुरत को पूरा किया। उन्होंने बताया कि वह अपने बच्चों का सपना पूरा करने के लिए कभी भी हार नहीं मानेगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×