• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • जेल विभाग का रिजल्ट एक साल बाद भी घोषित नहीं; किसी की शादी, किसी की नौकरी अटकी
--Advertisement--

जेल विभाग का रिजल्ट एक साल बाद भी घोषित नहीं; किसी की शादी, किसी की नौकरी अटकी

पीईबी की लेटलतीफी के कारण बेरोजगार युवा परेशान हैं। जेल विभाग की भर्ती परीक्षा का परिणाम सालभर बाद भी घोषित नहीं...

Danik Bhaskar | May 10, 2018, 03:55 AM IST
पीईबी की लेटलतीफी के कारण बेरोजगार युवा परेशान हैं। जेल विभाग की भर्ती परीक्षा का परिणाम सालभर बाद भी घोषित नहीं किया गया है। इसके चलते किसी की शादी अटकी हुई है तो कोई अन्य नौकरी के लिए प्रयास नहीं कर पा रहा है। रिजल्ट के लिए परीक्षार्थी भोपाल स्थित कार्यालय के चक्कर काट रहे हैं, लेकिन उन्हें ठोस जवाब नहीं मिल रहा है।

प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड (पीईबी) ने जेल विभाग में भर्ती के लिए पिछले साल मई में विज्ञप्ति जारी की थी। 23 मई 2017 से 10 जून तक ऑनलाइन आवेदन लिए गए। 15 जुलाई से 14 अगस्त तक महीनेभर दो सत्रों में परीक्षा आयोजित की गई। सागर, इंदौर, उज्जैन, भोपाल और ग्वालियर सहित 15 शहरों में परीक्षा केंद्र बनाए गए। 982 पदों के लिए हुई परीक्षा में प्रदेश के करीब एक लाख युवाओं ने हिस्सा लिया। फिजिकल ट्रेनर, सिलाई-बुनाई अनुदेशक, पुरुष नर्स, बढ़ईगिरी अनुदेशक, जेल प्रहरी सहित 10 पदों पर उम्मीदवारों का चयन होना है। सैकड़ों उम्मीदवारों ने सिर्फ इस परीक्षा में हिस्सा लिया। लेकिन रिजल्ट के लिए लंबा समय बीतने से परीक्षार्थी निराश हैं, क्योंकि वे कोई दूसरी नौकरी भी नहीं कर पाए।

इस परीक्षा के बाद हुई छह परीक्षाओं के कई उम्मीदवारों

को तो नियुक्तियां तक मिल गई

पीईबी ने वन विभाग की परीक्षा 18 जुलाई 2017 को ली थी, जिसका रिजल्ट 1 दिसंबर 2018 को घोषित कर दिया। कांस्टेबल की भर्ती परीक्षा 19 अगस्त 2017 को हुई थी, जिसका परिणाम 15 नवंबर 2017 को जारी हो गया। सब इंस्पेक्टर परीक्षा 26 अक्टूबर 2017 को हुई और 17 जनवरी 2018 को नतीजे आ गए। इसी तरह एएसआई की भर्ती 7 अक्टूबर 2017 को हुई और 10 नवंबर 2017 को रिजल्ट घोषित कर दिया। ग्रुप-1 की परीक्षा 5 नवंबर 2017 को हुई, जिसके परिणाम 24 जनवरी 2018 को जारी हो गए। पटवारी परीक्षा 9 दिसंबर 2017 को शुरू हुई और 26 मार्च 2018 को रिजल्ट आ गया। जेल विभाग में विभिन्न पदों के लिए हुई भर्ती परीक्षा 17 जुलाई 2017 को हुई थी, लेकिन 11 महीने बाद भी नतीजों के पते नहीं है।

Ãपीईबी की कोशिश रहती है कि परीक्षाओं के नतीजे समय सीमा में जारी कर दिए जाएं। 2017 में हुई लगभग सभी परीक्षाओं के परिणाम आ चुके हैं। कुछ मामलों में विभिन्न कारणों से देरी हो जाती है। जेल विभाग की परीक्षा के नतीजे भी हफ्तेभर में घोषित हो जाएंगे। हमें पुलिस विभाग से फिजिकल के नंबर विलंब से मिले, इसलिए समय पर रिजल्ट तैयार नहीं हो पाया। - केएस भदौरिया, परीक्षा नियंत्रक, पीईबी