Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» निर्देश का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई

निर्देश का उल्लंघन करने पर होगी कार्रवाई

शहर में 1 जून से खाने योग्य बर्फ के नाम पर अखाद्य बर्फ को बनाया और बेचा नहीं जा सकेगा। अब तक दोनों ही बर्फ दिखने में...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 10, 2018, 04:00 AM IST

शहर में 1 जून से खाने योग्य बर्फ के नाम पर अखाद्य बर्फ को बनाया और बेचा नहीं जा सकेगा। अब तक दोनों ही बर्फ दिखने में एक जैसे होते थे, जिससे पहचान नहीं हो पाती थी, लेकिन अब अखाद्य बर्फ नीले रंग में बनाई जाएगी। जबकि खाद्य बर्फ सफेद ही रहेगा। खाद्य प्रशासन विभाग के संभागीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी राकेश अहिरवाल ने बताया कि संभाग की सभी बर्फ की फैक्टरियों को भारतीय खाद्य संरक्षण और मानक प्राधिकरण के इस नए निर्देश की सूचना दे दी गई हैं।

उन्होंने बताया कि अधिकांश बर्फ फैक्ट्रियों द्वारा नान पोटबिल वाटर से अखाद्य बर्फ बनाया जा रहा है। जिसका उपयोग जल्दी खराब होने वाले खाद्य पदार्थों के प्रिजर्वेशन, परिवहन भंडारण के दौरान किया जाता है। इससे खाद्य पदार्थ के संक्रमित होने की संभावना बनी रहती है। साथ ही गन्ने, फ्रूट के जूस, लस्सी में इसी बर्फ को मिलाकर बेचा जा रहा है। इससे स्वास्थ्य के बिगड़ने का खतरा बना रहता है। इसका कारण यह है कि अखाद्य एवं खाद्य बर्फ ऊपर से दिखने में एक से लगते हैं। खाद्य और अखाद्य बर्फ बना रही सभी फैक्टरियों को नोटिस देकर कहा गया है कि अखाद्य बर्फ नीला ही बनाएं। इसके लिए उसमें फूड कलर इंडिगो केरा माइन अथवा ब्रिलिएंट ब्लू को 10 पीपीएम मिलाया जाए। निरीक्षण में ऐसा नहीं पाए जाने पर फैक्ट्री संचालक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

एक जून से नीले रंग में मिलेगा नहीं खाने लायक बर्फ

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×