सागर

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • जिले में युवा प्रशासन; नई ज्वाइनिंग वाले सभी अफसर 30 साल से कम के
--Advertisement--

जिले में युवा प्रशासन; नई ज्वाइनिंग वाले सभी अफसर 30 साल से कम के

जिला प्रशासन में वर्षों से खाली पड़े पद भरना शुरु हो गए हैं। नायब तहसीलदार से लेकर डिप्टी कलेक्टर तक के रिक्त लगभग...

Dainik Bhaskar

May 14, 2018, 04:05 AM IST
जिला प्रशासन में वर्षों से खाली पड़े पद भरना शुरु हो गए हैं। नायब तहसीलदार से लेकर डिप्टी कलेक्टर तक के रिक्त लगभग सभी पदों पर अधिकारी आ गए हैं। खास और अच्छी बात यह है कि यह सभी युवा हैं। हाल ही में जो 9 नायब तहसीलदार आए है उन सभी का आयु 25 से लेकर 30 साल के बीच है। जो डिप्टी कलेक्टर आई हैं, उन दोनों की ही आयु 25 साल से भी कम है। अमृता गर्ग जहां 24 साल की हैं तो शशि मिश्रा 23 वर्ष की ही हैं। नवागत अपर कलेक्टर तन्वी हुड्डा भी युवा ही हैं।

इन युवाओं की आमद ने जिला प्रशासन की औसत आयु भी 39 वर्ष कर दी है। यानी अब युवा और वरिष्ठों का मिश्रण जिला प्रशासन में हो गया है। ऐसे में इस जुगलबंदी का लाभ आम आदमी को मिलने की उम्मीद है। तहसीलदारों के पदों को छोड़ दें तो लगभग सभी पदों पर स्थापना और ज्वाइनिंग हो चुकी है। लिहाजा जन को भी आस बंध गई है कि उनकी सुनवाई अब समय से होगी। बहरहाल पहले से कार्यरत और नए आए अधिकारियों के बाद जिला प्रशासन की कुल औसत आयु जहां 39 वर्ष बन रही है, वहीं नायब तहसीलदारों की औसत आयु 32 वर्ष हो गई है, जो जिले के औसत से भी कम है। हालांकि डिप्टी कलेक्टर और तहसीलदार स्तर पर यह औसत आयु 50 वर्ष हो रही है।

फील्ड में घूम रहे अधिकारी, लोगों की बातें सुनते हैं

नायब तहसीलदार 25 वर्षीय समीर अहरवार, संगीता सिंह (30), सुजाता विश्वकर्मा (27), आदर्श जैन (26), वैभव वैरागी (27), देवेंद्र कच्छावा (25), सोनम पांडे (25), ऋतु सिंघई (28) यह सभी वे अधिकारी हैं जो ज्वाइनिंग के बाद से ही लगातार फील्ड में घूम रहे हैं। तहसील में बैठकर तो लोगों की बातें सुनते ही हैं। यदि केस ऐसा हो, जहां मौके पर जाकर निराकरण करना हो, ताे उसे टालने या तारीख देने की जगह तुरंत ही जाकर निराकरण कर रहे हैं।

अब तहसीलदार के 9 और नायब तहसीलदार का 1 पद ही खाली :

दो माह पहले यह स्थिति थी कि जिला प्रशासन प्रभार में चल रहा था। नायब तहसीलदार से लेकर तहसीलदार, एसडीएम, अपर कलेक्टर तक के सभी पद प्रभार में थे। इस बीच करीब 13 अधिकारियों ने ज्वाइनिंग की। अब स्थिति यह है कि तहसीलदार के 9 और नायब तहसीलदार का 1 पद ही खाली है। डिप्टी कलेक्टर स्तर के सभी पद भर चुके हैं। यह सभी अधिकारी युवा ही आए हैं। नई नियुक्तियों में जिस तरह से युवाओं की आमद हुई, उसको देखकर यही कयास लगाए जा रहे हैं कि शेष रहे पद भी जैसे ही भरेंगे तो उसमें और भी युवा अधिकारी सागर में आ सकते हैं।

X
Click to listen..