• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • खरीदी की रफ्तार नहीं बढ़ी तो उपज ही नहीं बेच पाएंगे 45 हजार किसान
--Advertisement--

खरीदी की रफ्तार नहीं बढ़ी तो उपज ही नहीं बेच पाएंगे 45 हजार किसान

समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की प्रक्रिया 26 मार्च से शुरु होकर 25 मई तक चलना थी। गेहूं खरीदी सागर में 31 मार्च काे मात्र...

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 04:50 AM IST
समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी की प्रक्रिया 26 मार्च से शुरु होकर 25 मई तक चलना थी। गेहूं खरीदी सागर में 31 मार्च काे मात्र एक केंद्र पर ही शुरु हो सकी थी। 1 अप्रैल से अधिकांश केंद्रों पर खरीदी शुरु हुई। अभी तक 34 हजार से अधिक किसानों से 2.19 लाख मीट्रिक टन गेहूं की खरीदी की जा चुकी है। इसी प्रकार चना, मसूर और सरसों की खरीदी प्रक्रिया 10 अप्रैल से शुरु होकर 9 जून तक चलना थी। इसकी तारीख बढ़कर 12 अप्रैल हुई, लेकिन खरीदारी 16 अप्रैल से शुरु हुई। अब तक 23 हजार 722 मीट्रिक टन चना, 7 हजार 622 मीट्रिक टन मसूर एवं 350 मीट्रिक टन सरसों की खरीदी हो चुकी है।

गेहूं में 56 हजार तो दलहन के लिए 84 हजार पंजीयन

समर्थन मूल्य पर पिछले साल जहां गेहूं के लिए मात्र 28 हजार किसानों से खरीदी हुई थी। इस बार रिकॉर्ड 56 हजार किसानों के पंजीयन हुए। जो पिछले साल की तुलना में सीधे दोगुने हैं। पिछले साल खरीदी केंद्र 123 थे, इस साल मात्र 3 ही बढ़ाए गए हैं। पहली बार दलहनी फसलों की खरीदी समर्थन मूल्य पर हो रही है। इसक लिए जिले के 84 हजार किसानों ने पंजीयन कराया है। जो प्रदेश में दूसरे स्थान पर है।

इस तरह के लग रहे हैं आरोप




समर्थन पर खरीदी की ऐसी बन रही है स्थिति

उपज पंजीयन अब तक कुल प्रतिदिन के वंचित रह जाएंगे किसानों से खरीदी औसत किसान

गेहूं 56000 34050 21950 9365

दलहन 84000 21362 890 35935

कोई भी किसान वंचित नहीं रहेगा


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..