• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • शिक्षकांे की समस्याएं निपटाने के लिए पहली बार ब्लाक स्तर पर शिविर
--Advertisement--

शिक्षकांे की समस्याएं निपटाने के लिए पहली बार ब्लाक स्तर पर शिविर

Dainik Bhaskar

May 12, 2018, 05:10 AM IST

Sagar News - स्कूल शिक्षा विभाग के शिक्षक एवं कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। चुनावी साल में उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए...

शिक्षकांे की समस्याएं निपटाने के लिए पहली बार ब्लाक स्तर पर शिविर
स्कूल शिक्षा विभाग के शिक्षक एवं कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। चुनावी साल में उनकी समस्याओं के निराकरण के लिए पहली बार ब्लॉक स्तर पर परिवेदना निवारण शिविर लगाए जाएंगे। इसमें शिक्षक और कर्मचारी अपनी व्यक्तिगत समस्याएं सुनाएंगे। जिनका 15 दिन के भीतर हर हाल में निराकरण होगा।

सागर जिले में 18 मई को सभी 11 विकासखंड मुख्यालय में यह शिविर लगेंगे। सुबह 10 से शाम 5 बजे तक जितने भी आवेदन आएंगे, उनका रिकॉर्ड बनाकर सागर भेज दिया जाएगा। जिला पंचायत सीईआे की अध्यक्षता में यह कार्रवाई होगी। 15 दिन की समय सीमा में सभी आवेदनों का निराकरण कर उसकी पूरी रिपोर्ट भोपाल भेजना भी अनिवार्य किया गया है। इस संबंध में हाल ही में वीडियो कांफ्रेंस में भोपाल से नवागत आयुक्त जयश्री कियावत ने निर्देश जारी कर दिए हैं।

14 को फिर होगी वीसी

स्कूल शिक्षा विभाग की आयुक्त जयश्री कियावत ने निर्देश दिए हैं कि शिविर को लेकर पूरी कार्ययोजना बना लें। 14 मई को वे फिर से दोपहर 2 बजे से वीडियो कांफ्रेंस करेंगी। इसमें वे बिंदुवार जानकारी लेंगी। इस बैठक में जिपं सीईओ के अलावा डीईओ, डीपीसी, बीईओ, बीआरसी, सहायक संचालक आदि अधिकारी मौजूद रहेंगे।

ऐसा रहेगा शिविर का प्रारूप




इस तरह चलेगा आवेदनों के निराकरण का काम




शिक्षक-कर्मचारियों को इसका लाभ लेना चाहिए


संकुलवार लगेंगी टेबल, एक दिन पहले निरीक्षण भी होगा

संभवत: सभी जगह एक्सीलेंस स्कूल में यह शिविर लगेंगे। इसमें बीईओ, बीआरसी, एक्सीलेंस स्कूल के प्राचार्य के अलावा विकासखंड स्तर के सभी अधिकारी मौजूद रहेंगे। इसके अलावा सागर से भी एक-एक प्रतिनिधि सभी जगह पहुंचेगा। शिविर में संकुलवार अलग-अलग सीटें लगाई जाएंगी। संभव होगा तो अलग-अलग कक्ष अलग-अलग संकुल के लिए आरक्षित किए जाएंगे। सबसे पहले शिक्षक या कर्मचारी बीईओ के पास जाएगा। बीईओ आवेदन को देखकर संबंधित सीट पर भेजेंगे। वहां उनके आवेदन का पंजीयन होगा। तीन कंप्यूटर और स्कैनर हर जगह रहेंगे। जिसमें आवेदन स्कैन किया जाएगा, ताकि बाद में आरोप-प्रत्यारोप न लगें। इन सभी व्यवस्थाओं का जायजा लेने के लिए जिला स्तरीय टीम 17 मई को सभी जगह पहुंचेगी।

ऐसा रहेगा शिविर का प्रारूप




इस तरह चलेगा आवेदनों के निराकरण का काम




X
शिक्षकांे की समस्याएं निपटाने के लिए पहली बार ब्लाक स्तर पर शिविर
Astrology

Recommended

Click to listen..