--Advertisement--

चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए

Sagar News - शुक्रवार की रात फोरलेन पर हुई लल्ता उर्फ ललित पटेल की हत्या के मामले में बहेरिया पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ हत्या...

Dainik Bhaskar

May 09, 2018, 05:25 AM IST
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
शुक्रवार की रात फोरलेन पर हुई लल्ता उर्फ ललित पटेल की हत्या के मामले में बहेरिया पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ हत्या के आरोप में नामजद एफआईआर दर्ज की है।

मंगलवार को पुलिस ने इन चारों को जिला न्यायालय में पेश किया। यहां से इनमें से एक ध्रुव उर्फ बाबा परिहार का एक दिन का रिमांड लिया गया है। बाकी तीन आरोपी गोलू आठ्या, नंदू पटेल और नत्थू गौड़ को जेल भेज दिया गया। मामले की जांच कर रहे बहेरिया थाने के प्रभारी कमलेंद्र कल्चुरी का कहना है कि जब्त की गई जीप और उसके आसपास से कारतूस का खोखा नहीं मिला है, इसलिए बाबा का रिमांड लिया गया है।

जिंदा गांव के पास लावारिस हालत में मिला था शव : पुलिस के मुताबिक जिंदा गांव के बाहर फोरलेन पर मकरोनिया के पटेलनगर निवासी लल्ता उर्फ ललित पटेल का शव सड़क के किनारे मिला था। उसके सिर में गोली लगने का निशान था। इस घटनाक्रम के बाद ललित के परिजनों समेत मकरोनिया चौराहा पर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया था। बाद में पुलिस ने खुलासा किया कि घटनाक्रम के दौरान ललित के साथ नंदू और गोलू भी मौजूद थे। जबकि बाबा परिहार और नत्थू गौड़ ने इस कांड के साक्ष्य मिटाए थे।

बाबा परिहार

भास्कर संवाददाता | सागर

शुक्रवार की रात फोरलेन पर हुई लल्ता उर्फ ललित पटेल की हत्या के मामले में बहेरिया पुलिस ने चार लोगों के खिलाफ हत्या के आरोप में नामजद एफआईआर दर्ज की है।

मंगलवार को पुलिस ने इन चारों को जिला न्यायालय में पेश किया। यहां से इनमें से एक ध्रुव उर्फ बाबा परिहार का एक दिन का रिमांड लिया गया है। बाकी तीन आरोपी गोलू आठ्या, नंदू पटेल और नत्थू गौड़ को जेल भेज दिया गया। मामले की जांच कर रहे बहेरिया थाने के प्रभारी कमलेंद्र कल्चुरी का कहना है कि जब्त की गई जीप और उसके आसपास से कारतूस का खोखा नहीं मिला है, इसलिए बाबा का रिमांड लिया गया है।

जिंदा गांव के पास लावारिस हालत में मिला था शव : पुलिस के मुताबिक जिंदा गांव के बाहर फोरलेन पर मकरोनिया के पटेलनगर निवासी लल्ता उर्फ ललित पटेल का शव सड़क के किनारे मिला था। उसके सिर में गोली लगने का निशान था। इस घटनाक्रम के बाद ललित के परिजनों समेत मकरोनिया चौराहा पर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर प्रदर्शन भी किया था। बाद में पुलिस ने खुलासा किया कि घटनाक्रम के दौरान ललित के साथ नंदू और गोलू भी मौजूद थे। जबकि बाबा परिहार और नत्थू गौड़ ने इस कांड के साक्ष्य मिटाए थे।

आज एफएसएल की बैलेस्टिक शाखा करेगी जीप की जांच

आरोपियों द्वारा बताए गए घटनाक्रम की पुष्टि के लिए बहेरिया पुलिस, हत्याकांड में इस्तेमाल की गई जीप का बुधवार को एफएसएल की बैलेस्टिक शाखा से परीक्षण कराएगी। सूत्रों के मुताबिक एफएसएल वैज्ञानिक फायर के बाद बोलेरो में मिलने वाले बारूद के कण समेत अन्य साक्ष्याें की मदद से घटनाक्रम की वास्तविक कहानी का पता करने की कोशिश करेंगे। उनकी जांच का बिंदू ये भी रहेगा कि ललित को कितनी दूर से गोली लगी। उस समय फायर का डायरेक्शन क्या था।

नंदू उर्फ नरेन्द्र

गोलू आठ्या

नत्थू गौड़

चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
X
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
चार आरोपियों पर केस; एक रिमांड पर, बाकी 3 जेल गए
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..