• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Sagar
  • पत्नी निकाल रही थी एटीएम से पैसे; प्रोफेसर समझे ये किसी चोर का काम
--Advertisement--

पत्नी निकाल रही थी एटीएम से पैसे; प्रोफेसर समझे ये किसी चोर का काम

विवि के मानव शास्त्र विभाग के प्रोफेसर केकेएन शर्मा के एटीएम से रकम निकाले जाने के मामले का पटाक्षेप हो गया है।...

Dainik Bhaskar

May 09, 2018, 05:25 AM IST
विवि के मानव शास्त्र विभाग के प्रोफेसर केकेएन शर्मा के एटीएम से रकम निकाले जाने के मामले का पटाक्षेप हो गया है। सिविल लाइन पुलिस के अनुसार प्रो. शर्मा ने लिखित में जवाब दिया है कि मेरी प|ी मेरे एटीएम कार्ड से रकम निकाल लेती थी, इसकी मुझे जानकारी नहीं थी। मैंने ये समझा कि कोई अज्ञात व्यक्ति मेरे कार्ड का दुरुपयोग कर रहा है, इसलिए मैंने यह शिकायत कर दी। लेकिन अब मैं, इस मामले में कोई और कार्रवाई नहीं चाहता हूं।

तीन महीने में 88 हजार रुपए निकाले जाने की शिकायत की थी : पिछले सप्ताह प्रो. शर्मा ने सिविल लाइन थाने में एक लिखित आवेदन दिया था। उनका कहना था कि कोई अज्ञात व्यक्ति मेरे एटीएम से बीते 3 महीेने में 88 हजार रु. निकाल चुका है। सिविल लाइन पुलिस ने मामले को जांच में लेते हुए एसबीआई की विवि ब्रांच से संपर्क किया तो जानकारी मिली कि यह रकम आधी रात के बाद निकाली गई और खाताधारक यानी प्रोफेसर शर्मा को इस ट्रांजिक्शन का एसएमएस अलर्ट भी भेजा गया है।

एसएमएस डिलीट कर दिए जाते थे, इसलिए

प्रोफेसर नहीं समझ पाए माजरा

सिविल लाइन पुलिस का कहना है कि यह सारी स्थिति इसलिए बनी क्योंकि ट्रांजेक्शंस के बाद बैंक द्वारा भेजे गए एसएमएस अज्ञात व्यक्ति द्वारा मोबाइल सेट से डिलीट कर दिए जाते थे। अगर प्रोफेसर को समय रहते, यह एसएमएस मिलते रहते थे तो वह पहले घर में ही इस निकासी की पड़ताल कर लेते। पुलिस का मानना है कि एसएमएस अर्लट इसलिए डिलीट किए गए ताकि प्रोफेसर को इस हेराफेरी का पता नहीं चल सके। लेकिन पिछले दिनों एक एसएमएस प्रोफेसर को मिल गया। उन्होंने तुरंत हिसाब-किताब लगाकर पूरे 88 हजार रु. की हेराफेरी निकाल ली आैर सीधे पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने पहुंच गए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..