Hindi News »Madhya Pradesh »Sagar» यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल

यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल

यह सागर का सिंधी समाज है। यहां इनकी खुद की सरकार चलती है। सरकारी राशन और अन्य योजनाओं से इन्हें ज्यादा सरोकार नहीं...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 14, 2018, 05:30 AM IST

  • यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल
    +3और स्लाइड देखें
    यह सागर का सिंधी समाज है। यहां इनकी खुद की सरकार चलती है। सरकारी राशन और अन्य योजनाओं से इन्हें ज्यादा सरोकार नहीं रहता। सिंधी पंचायत खुद ही समाज के गरीब व असहाय लोगों को अपना राशन कार्ड (डायरी) जारी करता है। उन्हें हर महीने फ्री गेहूं, चावल व अन्य सामग्री उपलब्ध कराने के साथ ही शादी व बीमारी में इलाज के लिए आर्थिक मदद भी दी जाती है।

    सिंधी समाज के 55 गरीब परिवारों को त्योहार पर मिठाई भी दी जाती है, शादी और बीमारी में आर्थिक मदद भी करती है सिंधी पंचायत

    55 परिवारों को मिल रहा है राशन

    संत कंवरराम वार्ड की गरीब बस्ती के 55 परिवारों को वर्तमान में राशन उपलब्ध कराया जा रहा है। महीने की 3 तारीख से गेंहूं-चावल बांटना शुरू होता है। हर त्यौहार पर विशेष मिठाई व कपड़े और बेटियों की शादी में पंचायत आर्थिक मदद करती है। 5 हजार रुपए तक की मेडिकल सहायता सामान्य बीमारियों के इलाज के लिए दी जाती है। वहीं गंभीर बीमारी होने पर ज्यादा से ज्यादा आर्थिक सहायता करते हैं।

    80 समृद्ध लोगों से जुटता है फंड

    सिंधी पंचायत के कोष में समाज के समृद्ध व संपन्न 80 लोग स्वेच्छा से हर महीने 400-800 रुपए तक जमा करते हैं। समाज की धर्मशाला में होने वाली शादियों व अन्य आयोजनों पर शुल्क के तौर पर गरीब सहायता फंड में राशि जमा कराई जाती है। इस तरह एक बड़ी राशि एकत्र होती है, जिससे यह पूरा सिस्टम चलता है।

    बाइपास सर्जरी के लिए दी 21 हजार की सहायता

    सिंधी पंचायत के अध्यक्ष भीष्म राजपूत बताते हैं कि यह समाज की एक आंतरिक व्यवस्था है। हम हर बात के लिए सरकार पर ही क्यों निर्भर रहें, जो सक्षम हैं वे आगे आगे आकर गरीबों व असहायों की मदद कर सकते हैं। मेडिकल सहायता के तहत एक हृदयरोगी की बाइपास सर्जरी के लिए पंचायत ने 21 हजार की सहायता दी। झूलेलाल स्कूल में पढ़ाने वाली टीचर की माताजी के लंग्स में प्रॉब्लम थी, उन्हें इलाज के लिए 11 हजार की सहायता दी। वे अब स्वस्थ्य हैं।

  • यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल
    +3और स्लाइड देखें
  • यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल
    +3और स्लाइड देखें
  • यहां चलता है समाज का राशन कार्ड, गरीब परिवारों को फ्री देते हैं गेहूं-चावल
    +3और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Sagar

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×