• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Sagar
  • नियमितिकरण के लिए जिले के 755 रोजगार सहायक बेमुद्दत हड़ताल पर
--Advertisement--

नियमितिकरण के लिए जिले के 755 रोजगार सहायक बेमुद्दत हड़ताल पर

नियमितीकरण की मांग को लेकर जिले के रोजगार सहायक गुरुवार तीसरे दिन भी जिला पंचायत कार्यालय के सामने अनिश्चितकालीन...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 06:15 AM IST
नियमितिकरण के लिए जिले के 755 रोजगार सहायक बेमुद्दत हड़ताल पर
नियमितीकरण की मांग को लेकर जिले के रोजगार सहायक गुरुवार तीसरे दिन भी जिला पंचायत कार्यालय के सामने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहे। लंबे समय से ज्ञापन और धरने के माध्यम से कई बार मांगे रखने के बाद भी जब सरकार ने सुनवाई नहीं की, तो प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर मंगलवार से हड़ताल पर बैठ गए है। जिसमें प्रमुख रुप से नियमितीकरण की मांग की गई है।

जिले की समस्त पंचायतों के रोजगार सहायक हड़ताल पर है, रोजगार सहायक संगठन के पदाधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री बार बार बोल रहे है की संविदा शब्द अन्याय पूर्ण है। इसको समाप्त किया जाएगा फिर रोजगार सहायकों के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है। रोजगार सहायकों का लगातार शोषण जारी है। नियमित न होने पर जिले के 755 ग्राम रोजगार सहायक हड़ताल पर अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल से पंचायत के काम काज प्रभावित है।

सहायक सचिव के पद पर नियमित न किए जाने से नाराज : जिले के ग्राम रोजगार सहायक संघ सागर के पदाधिकारियों ने बताया कि सी एवं सिर्फ आश्वासन दे रहे है। अब तक न तो महापंचायत बुलाई, न ही उसकी तारीख तय की। हमारी एकसूत्रीय मांग सहायक सचिव के पद पर संविलियन के साथ नियमितीकरण करना है लेकिन किसी भी प्रकार के आदेश जारी नहीं किये गए इससे नाराज रोजगार सहायकों ने आंदोलन की राह अपनाई।

यह काम हो रहे हैं प्रभावित

शासन की महत्वपूर्ण रोजगार मूलक योजना मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, असंगठित कर्मकार मंडल पेंशन,परिवार सहायता, जन्म मृत्यु, समग्र पोर्टल ,खाद्यविभाग और आयुष्मान भारत।

हड़ताल जारी रहेगी

सीएम हमें लगातार आश्वासन की पुड़िया दे रहे है, लेकिन हमें नियमित नहीं कर रहे। जब तक नियमितीकरण का आदेश नहीं तब तक हड़ताल जारी रहेगी। गजेंद्र सिंह राजपूत जिलाध्यक्ष,ग्राम रोजगार सहायक संगठन।

भास्कर संवाददाता | सागर

नियमितीकरण की मांग को लेकर जिले के रोजगार सहायक गुरुवार तीसरे दिन भी जिला पंचायत कार्यालय के सामने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहे। लंबे समय से ज्ञापन और धरने के माध्यम से कई बार मांगे रखने के बाद भी जब सरकार ने सुनवाई नहीं की, तो प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर मंगलवार से हड़ताल पर बैठ गए है। जिसमें प्रमुख रुप से नियमितीकरण की मांग की गई है।

जिले की समस्त पंचायतों के रोजगार सहायक हड़ताल पर है, रोजगार सहायक संगठन के पदाधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री बार बार बोल रहे है की संविदा शब्द अन्याय पूर्ण है। इसको समाप्त किया जाएगा फिर रोजगार सहायकों के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है। रोजगार सहायकों का लगातार शोषण जारी है। नियमित न होने पर जिले के 755 ग्राम रोजगार सहायक हड़ताल पर अनिश्चितकालीन कलम बंद हड़ताल से पंचायत के काम काज प्रभावित है।

सहायक सचिव के पद पर नियमित न किए जाने से नाराज : जिले के ग्राम रोजगार सहायक संघ सागर के पदाधिकारियों ने बताया कि सी एवं सिर्फ आश्वासन दे रहे है। अब तक न तो महापंचायत बुलाई, न ही उसकी तारीख तय की। हमारी एकसूत्रीय मांग सहायक सचिव के पद पर संविलियन के साथ नियमितीकरण करना है लेकिन किसी भी प्रकार के आदेश जारी नहीं किये गए इससे नाराज रोजगार सहायकों ने आंदोलन की राह अपनाई।

डिप्लोमा इंजीनियर्स की बेमियादी हड़ताल जारी रही

वहीं दूसरी ओर जिला पंचायत कार्यालय के पीछे डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन की सागर इकाई के डेढ़ सौ सब इंजीनियरों की बेमियादी हड़ताल गुरुवार को भी जारी रही। एसोसिएशन के अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह ने बताया ग्रेड-पे सहित अपनी पांच मांगें पूरी होने तक अनिश्चित कालीन हड़ताल जारी रखेंगे। मुख्यमंत्री ने 13 महीने पहले संघ की मांगे पूरी करने एक कमेटी गठित करके हमें झांसा दिया था। अब डिप्लोमा एसोसिएशन किसी भी झांसे में नहीं आएगा। एसोसिएशन ने 14 दिन पहले बेमियादी हड़ताल शुरू की थी।

X
नियमितिकरण के लिए जिले के 755 रोजगार सहायक बेमुद्दत हड़ताल पर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..